DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अंगरक्षक हत्याकांड में पूर्व सांसद आनंद मोहन बरी

बिहार के सहरसा जिले में एक निचली अदालत ने एक पूर्व विधायक के अंगरक्षक की हत्या के मामले में गुरुवार को पूर्व सांसद आनंद मोहन सहित 12 आरोपियों को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया।

अभियोजन सूत्रों ने बताया कि जज रामप्रकाश की फास्ट ट्रैक अदालत ने 22 जनवरी 2002 को पूर्व निर्दलीय विधायक किशोर कुमार मुन्ना के अंगरक्षक घनश्याम सिंह की हत्या के मामले में आरोपी पूर्व सांसद आनंद मोहन सहित 12 लोगों को सबूत के अभाव में बरी कर दिया।

जिले के नगर थाना अंतर्गत विद्यापति नगर में 2002 में सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में मुन्ना के बयान पर आनंद मोहन सहित 12 लोगों के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। पूर्व सांसद हत्या के एक मामले में अभी सहरसा के मंडल कारागार में बंद हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अंगरक्षक हत्याकांड में पूर्व सांसद आनंद मोहन बरी