DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मानवाधिकार आयोग जाएगा भट्टा पारसौल

मानवाधिकार आयोग जाएगा भट्टा पारसौल

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उत्तर प्रदेश में ग्रेटर नोएडा के भट्टा पारसौल में पुलिस और किसानों के बीच हुए संघर्ष से उत्पन्न स्थिति की गंभीरता को देखते हुए मौके का जायजा लेने के लिए अपना एक दल जल्द ही वहां भेजने का निर्णय लिया है।
 
मानवाधिकार आयोग ने कहा है कि भट्टा परसौल में किसानों के खिलाफ की गई हिंसा की शिकायतें और मीडिया में आई रिपोर्टें दुखद हैं। पुलिस और किसानों के बीच हुए संघर्ष में लोगों की जानें गई हैं और सरकारी ड्यूटी कर रहे अधिकारियों सहित कई लोग घायल भी हुए हैं। आयोग ने कहा है कि स्थिति की गंभीरता को देखते हुए उसने इस मामले में मौके का जायजा लेने के लिए अपना एक जांच दल वहां भेजने का निर्णय लिया है।
 
आयोग ने कहा है कि उसे मिली कई शिकायतों में आरोप लगाया गया है कि पुलिस ने भूमि के अधिग्रहण के एवज में अधिक मुआवजे की मांग कर रहे किसानों को बेरहमी से पीटा है। शिकायतों में पुलिसकर्मियों पर पथराव और पुलिसकर्मियों द्वारा किसानों के घरों में घुसकर ज्यादती, महिलाओं के साथ र्दुव्‍यवहार और फसलों में आग लगाए जाने के आरोप लगाए गए हैं। इसके अलावा पुलिस और कुछ प्रदर्शनकारियों के बीच फायरिंग की भी बात आयोग तक पहुंचाई गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मानवाधिकार आयोग जाएगा भट्टा पारसौल