DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समझौता एक्सप्रेस कांड में भूमिका से असीमानंद का इनकार

एक सत्र अदालत ने समझौता एक्सप्रेस विस्फोट कांड में स्वामी असीमानंद की जमानत याचिका को खारिज कर दिया, जबकि असीमानंद ने इस विस्फोट में अपनी भूमिका से इनकार किया है।

अदालत ने असीमानंद की हिरासत अवधि 26 मई तक के लिए बढ़ा दी है। असीमानंद की जमानत याचिका इस आधार पर दायर की गई थी कि एनआईए निर्धारित 90 दिन में आरोपपत्र दायर करने में असफल रही। यह याचिका जिला और सत्र न्यायालय के न्यायाधीश ने खारिज कर दी।

असीमानंद ने इस बात से इनकार कर दिया कि उसने एनआईए को समझौता विस्फोट मामले में अपनी भूमिका संबंधी कोई बयान दिया है। असीमानंद के वकील सुभाष गेहला ने आरोप लगाया कि एनआईए ने उसके अभियुक्त को मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना दे कर उससे यह बयान लिया।

समझौता एक्सप्रेस विस्फोट में 68 लोग मारे गए थे, जिनमें से ज्यादातर पाकिस्तान के थे। इसके पहले सात मई को जयपुर स्थित सीबीआई अदालत ने 2007 के अजमेर दरगाह विस्फोट मामले में असीमानंद की जमनत याचिका खारिज कर दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:समझौता एक्सप्रेस कांड में भूमिका से असीमानंद का इनकार