DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तर प्रदेश में बारिश से प्रभावित होगी आम की फसल

हाल ही में बेमौसम बरसात और आंधी से उत्तर प्रदेश में इस साल आम का उत्पादन और घटने की आशंका है।
   
राज्य के बागवानी विभाग के सूत्रों ने बताया कि आंधी और बारिश के चलते आम का उत्पादन इस साल करीब 20 प्रतिशत कम रहने की संभावना है। पिछले साल उत्तर प्रदेश में 30 लाख टन आम का उत्पादन हुआ था।
   
बागवानी विभाग में संयुक्त निदेशक राणा प्रताप सिंह ने बताया, उत्तर प्रदेश में आम के उत्पादन में उतार-चढ़ाव कोई असामान्य बात नहीं है। एक साल के अंतराल में मार्च में आम के पेड़ों में बौर लगते हैं।
   
उन्होंने कहा कि 2011 को उत्तर प्रदेश में आम के लिए कम उत्पादन वाला साल माना जा रहा है। मौसमी कारणों से इस साल लंगड़ा, चौसा और दशहरी जैसी किस्मों का उत्पादन 20 प्रतिशत कम रहने की संभावना है।
   
उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में आम का उत्पादन लखनऊ क्षेत्र में लखनऊ, मलीहाबाद, बक्शी का तालाब, सहारनपुर और संभल, अमरोहा, मुजफ्फरनगर जिलों में होता है।
   
लखनऊ क्षेत्र में प्रसिद्ध दशहरी आम के अलावा लंगड़ा और चौसा का उत्पादन होता है और राज्य के सालाना आम उत्पादन में इन किस्मों का योगदान 30-40 प्रतिशत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उत्तर प्रदेश में बारिश से प्रभावित होगी आम की फसल