DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुख-दुख में अफगानिस्तान का साथ देगा भारत: मनमोहन

सुख-दुख में अफगानिस्तान का साथ देगा भारत: मनमोहन

अफगानिस्तान की दो दिवसीय यात्रा पर गुरुवार को काबुल पहुंचे प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि भारत सुख-दुख में हमेशा अफगानिस्तान के साथ खड़ा रहेगा।

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करजई ने राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में मनमोहन सिंह का स्वागत किया।

करजई ने कहा, ''मनमोहन सिंह का उनके दूसरे घर में स्वागत करना अफगानिस्तान की जनता के लिए बेहद सम्मान की बात है।''

मनमोहन सिंह ने कहा, ''अफगानिस्तान का दौरा करना हमेशा से ही सम्मान और सौभाग्य की बात रही है। यह भारत की समस्त जनता के लिए सम्मान की बात है। भारत और अफगानिस्तान प्रगति में सहयोगी हैं। सुख और दुख में हम हमेशा अफगानिस्तान के साथ खड़े रहेंगे तथा अफगानिस्तान सरकार तथा जनता के प्रति हम अपनी एकजुटता दोहराते हैं।''

अफगान नेशनल आर्मी, अफगान वायुसेना और पुलिस की सयुंक्त टीम ने मनमोहन सिंह को 'गॉर्ड ऑफ ऑनर' पेश किया।  करजई ने उनका परिचय अपनी सरकार के वरिष्ठ मंत्रियों से कराया। मनमोहन सिंह ने भी अपने साथ आए शिष्टमंडल के सदस्यों का करजई से परिचय कराया।

प्रधानमंत्री के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन, अफगानिस्तान से सम्बद्ध विशेष दूत एस.के.लाम्बा और विदेश सचिव निरुपमा राव भी हैं।

इससे पहले प्रधानमंत्री सुबह 11.30 बजे काबुल हवाई अड्डा पहुंचे जहां अफगानिस्तान के विदेश मंत्री जैलमे रसौल, रक्षामंत्री अब्दुल रहीम और काबुल के मेयर मोहम्मद यूनुस नावांदिश ने उनकी अगवानी की।

मनमोहन सिंह हेलीकॉप्टर में सवार होकर हवाई अड्डे से सीधे राष्ट्रपति भवन चले गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुख-दुख में अफगानिस्तान का साथ देगा भारत: मनमोहन