DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाकिस्तान के खिलाफ जीत बरकरार रखने उतरेगा भारत

पाकिस्तान के खिलाफ जीत बरकरार रखने उतरेगा भारत

भारत सुल्तान अजलन शाह कप हॉकी टूर्नामेंट में बुधवार को जब पाकिस्तान का सामना करेगा तो उसका इरादा एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पर अपना दबदबा बरकरार रखते हुए जीत के क्रम को जारी रखना होगा।

गत चैम्पियन भारत को अगर खिताब की हैट्रिक पूरी करनी है तो उसे अपने अगले दोनों मैच जीतने होंगे। टीम ने दक्षिण कोरिया के खिलाफ शुरूआती मैच में दो गोल की बढ़त बनाने के बावजूद मैच 2-3 से गंवा दिया था।
    
वर्ष 2009 में यहां खिताब जीतने के बाद 2010 में दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्त विजेता रहे भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ अपने पिछले चार मैचों में जीत दर्ज की है। शुरूआती मैच में शिकस्त के बाद भारत ने शीर्ष पर चल रहे ब्रिटेन और मेजबान मलेशिया को हराया जबकि विश्व चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया को 1-1 की बराबरी पर रोका। पाकिस्तान ने दो जीत दर्ज की लेकिन उसे ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार भी झेलनी पड़ी।
   
भारत के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने कहा कि हमें अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। प्रत्येक मैच के साथ हमारी टीम में सुधार हो रहा है क्योंकि युवाओं का मनोबल बढ़ रहा है। युवा खिलाड़ियों ने यहां बेहतरीन काम किया है और यहां के अनुभव से उन्हें काफी फायदा मिलेगा।

हरेंद्र ने कहा कि भारतीय टीम की नजरें अपनी रणनीति पर हैं और वे यह सोचकर चिंतित नहीं हैं कि विरोधी टीम क्या कर रही है। उन्होंने कहा कि हम पाकिस्तान के खिलाफ मैच को अपने पिछले मैचों से अलग मानकर नहीं चल रहे।
   
भारत फिलहाल राउंड रोबिन लीग अंक तालिका में ब्रिटेन (चार मैचों में नौ अंक) और ऑस्ट्रेलिया (तीन मैचों में सात अंक) के बाद तीसरे स्थान पर चल रहा है और अगर उसे फाइनल में जगह बनानी है तो पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने अगले दोनों मैच जीतने होंगे।
   
पिछले साल भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ अपने चारों मैच जीते जिसमें नई दिल्ली में विश्वकप और ग्वांग्ज़ाउ एशियाई खेलों में मिली जीत भी शामिल है। भारत को एशियाई खेलों के सेमीफाइनल में मलेशिया के हाथों उलटफेर का शिकार होना पड़ा था जिसके बाद पाकिस्तान ने खिताब जीता था।
   
दूसरी तरफ पाकिस्तान की नजरें भारत के खिलाफ हार के क्रम को तोड़ने पर टिकी हैं। पाकिस्तान के टीम मैनेजर ख्वाजा जुनैद ने कहा कि भारत के खिलाफ हम अपनी रणनीति को पिछले मैचों के मुकाबले बेहतर तरीके से अंजाम तक पहुंचाना चाहते हैं।

पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जुनैद ने कहा कि हम इस मैच में मजबूत वापसी को बेताब हैं। सोमवार को ऑस्ट्रेलिया के हाथों 1-5 की शिकस्त के दौरान काफी कुछ सीखने को मिला। हमें अपनी कमजोरियों को दूर करना होगा। पाकिस्तान की टीम में अधिकतर वे खिलाड़ी शामिल हैं जो एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता टीम का हिस्सा थे लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सोमवार को टीम का डिफेंस चरमरा गया था।
   
पाकिस्तान के चार मैचों में छह अंक हैं जबकि उसे भारत और मलेशिया के खिलाफ खेलना है। भारत को अपने डिफेंस को मजबूत करना होगा तो मलेशिया के खिलाफ सोमवार को दूसरे हाफ के शुरूआती 15 मिनट में बिखरा हुआ लग रहा था जिसके कारण मेजबान टीम को कुछ अच्छे मौके मिले थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाकिस्तान के खिलाफ जीत बरकरार रखने उतरेगा भारत