DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब कियानी ने साधा यूएस पर निशाना

अब कियानी ने साधा यूएस पर निशाना

पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल अशफाक परवेज कयानी ने सैन्य अधिकारियों के साथ आयोजित बैठकों में ओसामा बिन लादेन की हत्या के बाद जनता में निराशा और हताशा पनपने के लिए अपर्याप्त औपचारिक प्रतिक्रिया को जिम्मेदार ठहराया है।

ज्ञात हो कि अलकायदा सरगना को अमेरिकी कमांडो ने दो मई को एबटाबाद में मार गिराया था। वह वहां पांच वर्षों से रह रहा था। लादेन का यह ठिकाना पाकिस्तान सैन्य अकादमी से थोड़ी ही दूरी पर था।

समाचार पत्र 'डॉन' ने मंगलवार को एक रपट में लिखा है कि जनरल कयानी ने सोमवार को अपने अधिकारियों से संपर्क करना शुरू किया। कयानी ने यह कदम अधिकारियों में बढ़ रही निराशा को शांत करने के मकसद से उठाया। दरअसल, ऐसा लगता है कि पाकिस्तान में लादेन के खिलाफ अमेरिकी कमांडो कार्रवाई ने सेना की छवि को देश के अंदर खराब कर दी है।

पहले दौर की बैठकें रावलपिंडी, खरियान, और सियालकोट में हुईं और ये बैठकें एबटाबाद की घटना पर केंद्रित थीं। कयानी ने लादेन की मौत के बाद जनता में निराशा के लिए खराब मीडिया प्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया।

अखबार ने सोमवार की बैठकों में कयानी के बयान के हवाले से लिखा है, ''अपूर्ण जानकारी और तकनीकी विवरणों का अभाव कयासों और गलत रिपोर्टिंग का कारण बना। अपर्याप्त औपचारिक प्रतिक्रिया के कारण जनता में निराशा और हताशा भी पैदा हुई।'' इन बैठकों में मीडिया को प्रवेश की अनुमति नहीं थी।

मीडिया रपट में कहा गया है कि कयानी के बयान से यह स्पष्ट होता है कि इस मामले में राजनीतिक प्रशासन के मीडिया प्रबंधन के तरीके से सेना खुश नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब कियानी का यूएस पर निशाना