DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिक्षक को अभियंता बनाने का मामला

बोकारो के शिक्षक अशोक भारती को अभियंता बनाने के मामले की सुनवाई करते हुए झारखंड उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने आइजी आरके मल्लिक की उस रिपोर्ट को खारिज कर दिया कि जिसमें कहा गया था कि इस गड़बड़ी के आरोप में 19 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष 11 लोग फरार हैं। ऐसे लोग दूसरे राज्यों में है।

उन्हें पकड़ने के लिए तीन टीमों का गठन किया गया है। अदालत ने कहा कि सरकार की ओर दिया गया जवाब पूरी तरह से असंतोषजनक है। मुख्य सचिव तथा गृह सचिव इसे लेकर सात जून तक जवाब दाखिल करें।

मालूम हो कि इस मामले में पूर्व की सुनवाई के दौरान इस अनियमितता की जांच का आदेश दिया था। अदालत ने डीजीपी से पूछा था कि अभियुक्त को अभी तक क्यों नहीं गिरफ्तार किया गया है। इस संबंध में अनुसंधान पदाधिकारी की भूमिका की जांच भी की जाये।

जांच प्रतिवेदन अदालत को सुपुर्द किया जाये। अदालत के इसी निर्देश के आलोक में सोमवार को डीजीपी की ओर से आइजी आरके मल्लिक ने कोर्ट में रिपोर्ट सौंपी थी। मालूम हो कि इस मामले में अभी तक कई दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। अशोक भारती भी फरार है। पूर्व में अदालत ने कहा था कि 26 अप्रैल तक पुलिस अशोक भारती को गिरफ्तार कर नहीं पाती है, तो इस मामले की जांच सीबीआई को दे दी जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिक्षक को अभियंता बनाने का मामला