DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लादेन की तलाश को मुशर्रफ ने रोका था

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने पद काबिज होते ही सेना के कमांडो के उस समूह को भंग कर दिया था, जिसका गठन अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को तलाशने के लिए किया गया था। आईएसआई के पूर्व प्रमुख जियाउददीन ख्वाजा ने यह दावा किया है।

ख्वाजा को जियाउद्दीन भट के नाम से भी जाना जाता है। उनके मुताबिक, उन्होंने ही विशेष सुरक्षा बलों का समूह गठित करने का फैसला किया था। इसमें 60 जवानों की भर्ती की गई थी।

उन्होंने कहा कि तालिबान शासक मुल्ला उम्मर से मुलाकात के बाद उन्होंने यह फैसला किया था। ख्वाजा ने कहा कि कंधार में मुलाकात के दौरान मुल्ला उमर ने लादने को पकड़ने में अपनी असर्थता जाहिर की।

समाचार पत्र द न्यूज के मुताबिक ख्वाजा ने कहा कि मुल्ला उमर ने मुझे बताया कि लादेन के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर सकता, क्योंकि तालिबान के भीतर उसे नायक का दर्जा हासिल है। उमर ने कहा था कि लादेन गले में हड्डी की तरह बन गया है, जिसे न तो उगलते बन रहा है और न ही निगलते बन रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लादेन की तलाश को मुशर्रफ ने रोका था