DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बलात्कार के बाद हत्या के अभियुक्त को मौत की सजा

उत्तर प्रदेश में मैनपुरी जिले की एक अदालत ने नौ वर्ष पहले बालिका की बलात्कार के बाद हुई हत्या के मामले में एक अभियुक्त को मौत की सजा सुनाई है।
     
जिला सरकारी अधिवक्ता चतुर सिंह ने बताया कि वर्ष 2002 की 15 अप्रैल को नेम सिंह नाम के एक व्यक्ति ने दस वर्षीय बालिका संगीता के साथ बलात्कार किया था और उसके बाद अपने एक साथी अवधेश के साथ मिलकर उसकी गला घोट कर हत्या कर दी थी।
     
सिंह ने बताया है कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश विजय लक्ष्मी ने इस मामले की सुनवाई के बाद नेम सिंह को बलात्कार एवं हत्या का दोषी करार देते हुए 12 साल के सश्रम कारावास के साथ मौत की सजा सुनाई है। साथ ही 25 हजार रुपये के अर्थ दण्ड भी लगाया है, जबकि दूसरे अभियुक्त अवधेश को साक्ष्यों के अभाव में बरी कर दिया।
     
उन्होंने बताया कि न्यायाधीश ने इस मामले को जघन्यतम अपराध बताते हुए नेम सिंह को बालिका की हत्या के लिए मौत तथा बलात्कार के लिए 12 साल सश्रम कारावास की सजा मुकर्रर की है।
     
सिंह ने बताया है कि 25 हजार रुपये का अर्थ दण्ड अदा न कर पाने पर उसके बदले में अभियुक्त को एक साल का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बलात्कार के बाद हत्या के अभियुक्त को मौत की सजा