DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्लीपर में की यात्रा, एसी सेकेंड का लिया भाड़ा

सीसीएल कोलियरी कर्मचारी संघ के पूर्व संयुक्त सलाहकार समिति के सदस्य एसएन शर्मा फर्ाीवाड़ा में धरा गये हैं। स्लीपर में यात्रा कर उन्होंने एसी सेकेंड क्लास का भाड़ा ले लिया है। जांच के क्रम में पकड़े गये हैं। उन्हें चार्जशीट जारी किया गया है। उनसे पत्र मिलने के सात दिनों के भीतर जवाब मांगा गया है।ड्ढr वह कंपनी के रारप्पा प्रोजेक्ट में बतौर सीनियर इलेक्ट्रीशियन (इपी) कार्यरत हैं। अगस्त 06 में वह औद्योगिक सुरक्षा और स्वास्थ्य विषयक पांच दिवसीय ट्रेनिंग के लिए मुंबई स्थित इंडियन इंस्टीटय़ूट ऑफ वर्कर्स एजुकेशन कुर्ला गये थे। इस क्रम में हटिया मुंबई ट्रेन के स्लीपर में टिकट कटाया। लौटे तो एसी सेकेंड क्लास में जाने की बात कह 1874 रुपये भाड़ा कंपनी से मांगा। इसके एवज में 1367 रुपये ले लिये। चार्जशीट के अनुसार तय समय में जवाब नहीं देने पर उनके खिलाफ प्रबंधन उचित कार्रवाई करगा।ड्ढr सीसीएल में कामगारों को अबतक वेतन नहींड्ढr सीसीएल के कामगारों को अब तक अप्रैल का वेतन नहीं मिला है। आम तौर पर महीने के अंतिम दिन उन्हें यह मिल जाया करता है। वेतन नहीं मिलने से उनमें आक्रोश है। समझौते के मुताबिक इस माह से उन्हें नये वेतनमान का भुगतान किया जाना है।ड्ढr बताया जाता है कि कर्मियों के चुनाव में चले जाने वक्त पर नये वेतनमान की गणना नहीं हो पायी। इसमें समय लग रहा है। कामगारों की मानें, तो इस बार वेतन पहले बैंक में जाने और पे स्लीप बाद में मिलने की संभावना है। अब तक उलटा होता रहा है।ड्ढr 751 करोड़ का प्रावधानड्ढr कोल इंडिया और अनुषंगी कंपनियों ने अधिकारियों के वेतन एवं भत्ता के मद में वर्ष 2008-0में करीब 751 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। उनकी संख्या लगभग 16 हाार है। अकेले सीसीएल ने लगभग 120 करोड़ का प्रावधान कर रखा है। उनके वेतन पुनरीक्षण का आदेश कोयला मंत्रालय ने एक मई को जारी कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्लीपर में की यात्रा, एसी सेकेंड का लिया भाड़ा