DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंहगाई रोकने के लिए अब सिर्फ मौद्रिक उपाय नहीं: आरबीआई

मंहगाई रोकने के लिए अब सिर्फ मौद्रिक उपाय नहीं: आरबीआई

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) का मानना है कि लगातार बढ़ती मंहगाई को थामने के लिए सिर्फ मौद्रिक उपायों पर निर्भरता व्यावहारिक नहीं रह गई है।
 
आरबीआई के गवर्नर डी सुब्बाराव ने कहा है कि भारत जैसी उभरती अर्थव्यवस्था में अकेले मौद्रिक उपायों के जरिए मंहगाई नियत्रित करना व्यवहारिक नहीं होगा। इससे आर्थिक विकास अवरूद्ध हो सकता है। आरबीआई के लिए विकास और मुद्रास्फीति के बीच संतुलन बनाए रखने की बड़ी चुनौती है ऐसे में हर बार मौद्रिक उपाय ही एक मात्र विकल्प नहीं हो सकते।
 
आरबीआई बेलगाम मंहगाई को थामने के लिए 3 मई को लगातार सातंवी बार नीतिगत दरों में बढोतरी कर चुका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महंगाई रोकने के लिए अब सिर्फ मौद्रिक उपाय नहीं: आरबीआई