DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भक्तों के लिए खुला बद्रीनाथ का कपाट

केदारनाथ के कपाट खुलने के एक दिन बाद सोमवार को बद्रीनाथ के कपाट भी श्रृद्धालुओं के लिए खुल गए। कपाट छह महीने बंद रहने के बाद आज खुले हैं।

श्री बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति की अध्यक्ष अनुसूइया प्रसाद भट्ट ने कहा कि शंख ध्वनि, वेद मंत्रों और वैदिक श्लोकों के उच्चारण के बीच बद्रीनाथ मंदिर के मुख्य पुजारी रावल केशव नंबूदरी ने सुबह 5 बजकर 35 मिनट पर मंदिर के कपाट खोले। मंदिर खुलने के बाद भगवान विष्णु की मूर्ति को पालकी से उतारकर विधिवत तरीके से मंदिर के गर्भगृह में ले जाया गया।

उत्तराखंड के चमोली जिले में 3,133 मीटर की ऊंचाई पर स्थित इस मंदिर के कपाट खुलने के वक्त राज्य के आपदा प्रबंधन मंत्री खजान दास, धार्मिक पर्यटन के प्रमुख सचिव राकेश शर्मा वहां मौजूद थे। तेज ठंडी हवाओं के बावजूद सैकड़ों की संख्या में श्रृद्धालु वहां मौजूद थे।

अनुसूइया ने कहा कि मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी इसमें भाग लेने वाले थे मगर किसी कारणवश नहीं आ सके। रूद्रप्रयाग जिले में स्थित केदारनाथ मंदिर को रविवार को ही श्रृद्धालुओं के दर्शन के लिए खोल दिया गया। वहां प्रथम दर्शन करने वालों में मुख्यमंत्री निशंक भी शामिल थे।

सोमवार को बद्रीनाथ मंदिर खुलने के साथ ही चारों धामों के मंदिर श्रृद्धालुओं के लिए खुल गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भक्तों के लिए खुला बद्रीनाथ का कपाट