DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लादेन के पाकिस्तानी नेटवर्क की जांच करे पाकः US

लादेन के पाकिस्तानी नेटवर्क की जांच करे पाकः US

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पाकिस्तान सरकार पर इस्लामाबाद के समीप ऐबटाबाद स्थित परिसर में अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को मिल रहे सहयोग के नेटवर्क की जांच के लिए दबाव बनाया है।

ओबामा ने लादेन की मौत के बाद अपने पहले साक्षात्कार में कहा हम मानते हैं कि पाकिस्तान में लादेन के सहयोग के लिए कोई नेटवर्क जरूर होगा। लेकिन हम नहीं जानते कि इसके पीछे कौन था या यह नेटवर्क किस तरह का था।

सीबीएस न्यूज के शो 60 मिनट्स में ओबामा ने पाकिस्तान सरकार के बारे में कहा हम नहीं जानते कि क्या इसमें शामिल लोग सरकार के अंदर के हो सकते थे या बाहर के इसकी हमें जांच करनी होगी और सबसे अहम बात यह है कि पाकिस्तानी सरकार को जांच करनी है।

गौरतलब है कि राष्ट्रपति के शीर्ष सलाहकार ने कहा था कि पाकिस्तान सरकार को अलकायदा प्रमुख की अपने देश में मौजूदगी के बारे में जानकारी होने के संबंध में अब तक कोई सबूत नहीं मिले हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा हम उन्हें पहले ही बता चुके हैं और उन्होंने संकेत दिया है कि वह यह पता लगाना चाहते हैं कि लादेन को सहयोग के लिए किस तरह का नेटवर्क रहा होगा। पर इन सवालों का जवाब हमें तीन या चार दिन में नहीं मिल सकता। इसके लिए हमें उन खुफिया दस्तावेजों और सामग्री का अध्ययन करना होगा जो हमने घटनास्थल से एकत्र की हैं। इसमें समय लगेगा।

पाकिस्तान से जुड़े हितों के संदर्भ में उसके बारे में कोई प्रतिकूल टिप्पणी करने से बचते हुए ओबामा ने कहा कि उन्हें स्रोतों और प्रक्रियाओं को लेकर सतर्क रहना होगा। अमेरिका के अभियान और खुफिया दस्तावेजों तथा सामग्री के अध्ययन में भी सतर्कता बरतनी होगी क्योंकि आतंकवादियों के खिलाफ अभियान अभी जारी है।

राष्ट्रपति ने कहा मैं कह सकता हूं कि 11 सितंबर के बाद से पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमारा मजबूत साथी बना हुआ है। कई बार हमारे बीच मतभेद हुए हैं और कई बार हमने कठोर कार्रवाई की अपेक्षा भी की है तथा विभिन्न कारणों से शायद उन्हें हिचकिचाहट हुई हो। यह मतभेद रहे हैं और आगे भी रहेंगे।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि लेकिन यह भी सच है कि हमने अन्य स्थानों की तुलना में पाकिस्तान में अधिक आतंकवादियों को मारा है। पाकिस्तान के सहयोग के बिना हम यह नहीं कर पाते। मैं यह भी सोचता हूं कि एक महत्वपूर्ण अवसर आएगा जब पाकिस्तान और अमेरिका एक साथ होंगे और कहेंगे ठीक है, हमे लादेन मिल गया, लेकिन हमें और काम करना है। क्या हमारे पास पहले से अधिक कारगर तरीके से मिलजुलकर काम करने के रास्ते हैं।

ओबामा ने कहा हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए यह महत्वपूर्ण होगा। इसका मतलब यह नहीं है कि हम पाकिस्तान को लेकर हताश हो जाएं। आप जानते हैं कि वहां न केवल आतंकवादी हैं बल्कि पाकिस्तान में ऐसा माहौल भी है जो कई बार अमेरिका का धुर विरोधी होता है। ऐसे में हमारे लिए वहां काम करना अधिक मुश्किल होता है।

उन्होंने कहा कि उन्हें लादेन के खिलाफ चलाए गए अभियान के बारे में पाकिस्तान सरकार के किसी भी व्यक्ति से कुछ कहने की जरूरत नहीं महसूस हुई। राष्ट्रपति ने कहा यदि मैं अपने करीबी सहायकों को यह नहीं बता रहा हूं कि क्या हो रहा है तो मुझे लगता है कि मैं उन लोगों को भी कुछ नहीं बताऊं जिन्हें मैं जानता नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लादेन के पाकिस्तानी नेटवर्क की जांच करे पाकः US