DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस ने की जामिया के छात्रों की पिटाई

अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्रों ने रविवार को आरोप लगाया कि पुलिस ने उनकी पिटाई की और विश्वविद्यालय प्रशासन ने पुलिस को परिसर में बुलाया था। हालांकि, विश्वविद्यालय ने कहा कि उसने सिर्फ एक ऐसे छात्र की मौजूदगी के बारे में पुलिस को सूचित किया था जिसके परिसर में आने पर पाबंदी लगा दी गई थी और उसे विश्वविद्यालय में देखा गया था।

गौरतलब है कि जनसंचार विभाग के 17 छात्रों के दल को कक्षा में हाजिरी कम रहने को लेकर परीक्षा में बैठने से रोक दिया गया था, जिसपर वे कल भूख हड़ताल में बैठ गए। उन्होंने बताया कि उन्हें मेडिकल आधार पर उन्हें हाजिरी में 15 फीसदी छूट देने से इनकार कर दिया गया।

कुलपति के कक्ष के सामने प्रदर्शन कर रहे छात्रों और उनके समर्थकों ने कहा कि विश्वविद्यालय के सुरक्षा बलों ने पुलिस को बुलाया, जिन्होंने छात्रों के साथ तथा एक छात्र की मां के साथ हाथापाई की। इन छात्रों की समर्थक अर्पिता ने आरोप लगाया कि पुलिसकर्मियों ने छात्रों की पिटाई की और एक छात्र की मां पर हमला किया।

उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने पांच छात्रों को हिरासत में ले लिया, जिन्हें ढाई घंटे तक पूछताछ करने के बाद छोड़ दिया गया। जामिया मिलिया की प्रवक्ता सीमी मल्होत्र ने कहा कि जहां तक विश्वविद्यालय की बात है हमारे सुरक्षा गार्ड किसी तरह की हिंसा में शामिल नहीं हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिस ने की जामिया के छात्रों की पिटाई