DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब आएंगी रोबोट संतानें

मानव देह का मुकाबला करता रोबोट अब अपनी ही शक्ल की संतान भी पैदा करेगा। ‘सेल्फ रेप्लिकेटिंग रोबोट’ यानी अपने जैसे ही रोबोट पैदा कर देने की बात अब विज्ञान कयासों से निकल कर हकीकत में आई है। इस अनोखी सफलता पर प्रकाश डालते हुए न्यूयॉर्क की कार्नेल यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक हॉड लिप्सन बताते हैं कि हालांकि यह युक्ति जैविक प्रजनन से मिलती है, मगर है अपने मशीनी अंदाज में।

असल में एक बड़े रोबोट में 10 सें.मी. चौकोर आकार वाले ढेरो ‘शिशु रोबोट’ जुड़े रहते हैं, जिनमें इलैक्ट्रोमेग्नेटिक पद्धति के आधार पर मूल रोबोट से अलग होने और निर्धारित क्षेत्र में चहलकदमी कर फिर आ जुड़ने की क्षमता है। कंप्यूटरीकृत तकनीक से संचालित यह मशीनी रोबोट परीक्षण के दौरान खरा उतरा है और इसने अपना आकर्षण प्रदर्शित कर दिखाया है।

लिप्सन अपनी टीम की इस सफलता से काफी उत्साहित हैं। उनका मानना है कि इस प्रकार के रोबोट्स का प्रयोग कई कठिन कार्यों में होगा, यहां तक कि अंतरिक्ष में भी यह रोबोट टहल आएगा और इसके शिशुओं को इस प्रकार प्रशिक्षित किया जाएगा कि वह अपने ‘जनक’ की काया में आई खराबियों को भी स्वयं ठीक कर देंगे और फिर उसी से आ जुड़ेंगे। यह अब तक की सबसे अनोखी रोबोटिक्स सफलता है।
कुलदीप शर्मा

कदमों से बनेगी बिजली
देश की अधिकांश आबादी फुटपाथ नापते हुए अपनी मंजिल पर पहुंचती है। देश ही क्यों, दुनिया भर का यही सत्य है। जब व्यक्ति पैदल चलता है तो सड़क पर पैर के भार से संघट्ट, कंपन एवं ध्वनि उत्पन्न करता है। इसमें प्रति कदम 3-4 ज्यूल ऊर्जा व्यय होती है। रोड पर व्यय हुई इस ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा के रूप में परिणत किया जा सकता है।

इसी भौतिक सिद्धांत के आधार पर विद्युत ऊर्जा उत्पादन का उपाय ‘भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र’ ने सोचा है। इसे तकनीकी रूप देने के लिए पैदल चलने वाले व्यक्ति के कदमों के नीचे प्लेट रख दी जाती है। कदम के भार से प्लेट दबती है और उससे प्राप्त हुई ऊर्जा के कारण विद्युत प्रत्यावर्तक के शाफ्ट में घूर्णन होता है और ऊर्जा पैदा होती है। यह प्रयोग रेलवे प्लेटफार्म, व्यस्त फुटपाथ, शॉपिंग मॉल, ऑफिस आदि में किया जा सकता है। इस उपाय से विद्युत ऊर्जा को 12 वोल्ट की बैटरी में एकत्रित किया जा सकता है। इस ऊर्जा से बल्ब जल सकते हैं और मोबाइल चार्ज हो सकते हैं।
श्याम मनोहर व्यास

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब आएंगी रोबोट संतानें