DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन की मदद से दोस्त बने साइमंडस-भज्जी: रिपोर्ट

सचिन की मदद से दोस्त बने साइमंडस-भज्जी: रिपोर्ट

सिडनी टेस्ट के दौरान नस्लीय टिप्पणी विवाद में फंसने वाले हरभजन सिंह और एंड्रयू साइमंडस अब अच्छे दोस्त बन गए हैं। खास बात यह है कि हरभजन और साइमंडस की दोस्ती मुंबई इंडियंस टीम के कप्तान सचिन तेंदुलकर की मदद से संभव हुई है।

द आस्ट्रेलियन की रिपोर्ट के मुताबिक तीन साल पहले सिडनी टेस्ट के दौरान हरभजन और साइमंडस नस्लीय टिप्पणी विवाद पर आमने सामने थे लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग में ये दोनों क्रिकेटर मुंबई इंडियंस की ओर से खेल रहे हैं और अब दोस्त बन गए हैं।

अखबार ने कहा कि तेंदुलकर ने हरभजन और साइमंडस के बीच दोस्ती कराने में अहम भूमिका निभाई है। खबर में कहा गया कि भारत के महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने इन दोनों क्रिकेटरों को पास लाने में महती भूमिका निभाई है।

साइमंडस ने हरभजन के साथ अपने नए रिश्तों के बारे में ज्यादा बोलने से इंकार कर दिया लेकिन उनके मैनेजर ने दोस्ती की पुष्टि की। हरभजन के बारे में पूछे जाने पर साइमंडस के हवाले से अखबार ने कहा कि माफ कीजिए, मैं कोई भी साक्षात्कार नहीं दे रहा हूं लेकिन यहां सब कुछ ठीक है। उनके मैनेजर मैट फीरोन ने हालांकि कहा कि साइमंडस नस्लीय विवाद को पीछे छोड़ चुके हैं।

साइमंडस के दोस्त और पूर्व टेस्ट क्रिकेटर मैथ्यू हेडन ने इस बात पर खुशी जताई है कि साइमंडस और हरभजन के बीच रिश्ते सुधर गए हैं। हेडन ने कहा कि एक समय ऐसा था जब मुझे लगा कि साइमंडस और हरभजन कभी भी बात नहीं करेंगे, लेकिन अब चीजें सामान्य हुई हैं और मैं यह सुनकर हैरान नहीं हूं। चीजें इसी तरह आगे बढ़नी चाहिए, लेकिन 2008 में जो कुछ हुआ उसके बारे में सोचने का कोई तुक नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सचिन की मदद से दोस्त बने साइमंडस-भज्जी: रिपोर्ट