DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैच पुणे से दादा से नहीं: गंभीर

मैच पुणे से दादा से नहीं: गंभीर

कोलकाता नाइटराइडर्स के कप्तान गौतम गंभीर ने कहा कि उनकी टीम जब पुणे वारियर्स से भिड़ेगी तो उनका मुकाबला पूर्व कप्तान सौरव गांगुली से नहीं बल्कि पूरी टीम से होगा।

नाइटराइइडर्स और पुणे वारियर्स के बीच 19 मई को नवी मुंबई के डीवाई पाटिल स्टेडियम में आईपीएल मैच खेला जाएगा। गांगुली को इस साल के शुरू में खिलाड़ियों की नीलामी में नजरअंदाज किया गया था, लेकिन पुणे ने चोटिल आशीष नेहरा की जगह उन्हें टीम में रखा है। गांगुली आईपीएल के पिछले तीनों सत्रों में कोलकाता टीम के सदस्य थे।

गंभीर ने शनिवार को कहा कि यह किसी एक खिलाड़ी के खिलाफ मुकाबला नहीं होगा और टीम इस मैच में जीत हासिल करने की कोशिश करेगी। उन्होंने कहा कि जब भी हम पुणे के खिलाफ खेलेंगे तो हमारा मुकाबला पुणे से होगा सौरव से नहीं। उनकी तरह से कौन खेल रहा है यह हमारे लिए कोई मायने नहीं रखता जब भी हम पुणे से खेलेंगे यह केकेआर बनाम पुणे मैच होगा ना कि सौरव बनाम केकेआर।

गंभीर ने कहा कि पेशेवर क्रिकेटर होने के नाते हम कड़ी क्रिकेट खेलकर अपने पक्ष में परिणाम चाहते हैं और आगामी मैचों में भी हम ऐसा करने की कोशिश करेंगे। पिछले चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स पर डकवर्थ लुईस पद्वति से शनिवार को मिली दस रन की जीत का श्रेय गंभीर ने अपने गेंदबाजों को दिया। ब्रेट ली ने चार ओवर में केवल आठ रन दिए, जबकि इकबाल अब्दुल्ला ने चार ओवर में 15 रन देकर एक विकेट लिया। उन्हें बाद में मैन आफ द मैच चुना गया।

गंभीर ने कहा कि ली पेशेवर क्रिकेटर है। वह दुनिया के कुछेक तूफानी गेंदबाजों में से एक है। इसी तरह से चैंपियन बनते हैं। यदि वह एक मैच में खराब प्रदर्शन करते हैं तो अगले मैच में शानदार वापसी करते हैं। ली ने यह दिखाया। युवा खिलाड़ी ली की प्रतिबद्धता से काफी कुछ सीख सकते हैं। विशेषकर इस विकेट पर जिससे स्पिनरों को मदद मिल रही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैच पुणे से दादा से नहीं: गंभीर