DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऐबटाबाद की हवेली थी अलकायदा का हेडक्वार्टर

ऐबटाबाद की हवेली थी अलकायदा का हेडक्वार्टर

पाकिस्तान के ऐबटाबाद में अमेरिकी अभियान में मारे जाने से पहले तक ओसामा बिन लादेन अल कायदा का सक्रिय नेता था और आतंकी संगठन की रणनीतियां तथा अभियान, दोनों ही उसके इस गुप्त ठिकाने के निर्देशों से संचालित होते थे।

अमेरिका के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि लादेन अल कायदा को इस्लामाबाद से 80 किलोमीटर दूर ऐबटाबाद में प्रमुख सैन्य अकादमी के पास स्थित तीन मंजिला इमारत से नियंत्रित करता था।

वरिष्ठ खुफिया अधिकारी ने लादेन के ठिकाने से मिली सामग्री से प्राप्त जानकारी के आधार पर कहा, यह कहना काफी होगा कि ऐबटाबाद का यह परिसर शीर्ष अल कायदा नेता के लिए निर्देश जारी करने और नियंत्रण करने का सक्रिय केंद्र था।

साफ हो चुका है कि वह संगठन के लिए सिर्फ रणनीति बनाने वाला ही नहीं था। वह अभियान की योजना बनाने और अल कायदा में रणनीतिक फैसलों में भी सक्रिय था। अभियान के दौरान अमेरिका के विशेष बलों को 10 हार्ड ड्राइव, पांच कंप्यूटर और 100 से अधिक स्टोरेज डिवाइस जैसे डिस्क और थंब ड्राइव आदि मिले हैं।

सीआईए ने वहां से मिले इलेक्ट्रानिक उपकरणों से जानकारी हासिल करने के लिए एक कार्यबल का गठन किया है। अधिकारी ने कहा कि यह हमारे और हमारे पूर्वानुमानों के लिए हैरान करने वाली बात  है कि लादेन अल कायदा की योजनाओं के सभी पहलुओं में शामिल था।

लादेन कुरियर नेटवर्क (संदेश वाहकों) पर काफी निर्भर था। संदेश वाहक बिना टेलीफोन, इंटरनेट और मोबाइल के उसके निर्देशों को लाने ले जाने में मदद करते थे और आतंकवादी नेटवर्क को नियंत्रित करते थे। अधिकारी ने कहा कि संभवत: इस परिसर में संदेशवाहक लादेन के अन्य अल कायदा सदस्यों से संपर्क में मदद करते थे।

खुफिया अधिकारियों के मुताबिक, इस बारे में कोई अतिरिक्त जानकारी नहीं है कि ऐबटाबाद के अलावा लादेन का कोई अन्य ठिकाना था। इस जांच से जुड़े अधिकारी ने कहा कि मुझे इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि लादेन कहीं और से निर्देशन या नियंत्रण करता था।

उन्होंने कहा कि हमें अब तक मिली जानकारी के अनुसार, वह अभियानों की योजनाएं तैयार करने में शामिल था और संगठन की कार्रवाईयों को निर्देश देता था। वह सिर्फ अल कायदा की रणनीति ही नहीं बनाता था। वह कार्रवाई की योजना भेजता था और खासकर वह अल कायदा सदस्यों को निर्देश देता था।

खुफिया अधिकारी के अनुसार, अमेरिकी सरकार द्वारा जारी एक आवाज रहित वीडियो के मुताबिक लादेन अमेरिका का आलोचक था और पूंजीवाद की निंदा करता था।

सीआईए निदेशक लियोन पेनेटा ने कहा कि शीर्ष खुफिया एजेंसी ने वही किया, जिसकी उम्मीद थी। पेनेटा ने सीआईए के इस अभियान को अमेरिका की रक्षा और भावी पीढ़ी के लिए एक बेहतर विश्व के निर्माण के लिए बताते हुए कहा इसने देश की दृढ़ता, योग्यता का प्रदर्शन किया है।

अमेरिकी अधिकारियों की ओर से शनिवार को जारी वीडियो में से एक में लादेन को ऐबटाबाद की तीन मंजिला इमारत में सफेद दाढ़ी और बालों में दिखाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऐबटाबाद की हवेली थी अलकायदा का हेडक्वार्टर