DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल को भूल जाओः हरेंद्र

राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल को भूल जाओः हरेंद्र

भारतीय हाकी टीम राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल की निराशा को पीछे छोड़कर रविवार को सुल्तान अजलन शाह कप के तीसरे मैच में मजबूत आस्ट्रेलिया को हराने की कोशिश करेगी।

मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने कल अगले राउंड रोबिन मुकाबले से पहले कहा कि उनके खिलाड़ियों को टीम की रणनीति पर ध्यान केन्द्रित करना चाहिए। राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में भारत को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था और इस मैच से पहले खिलाड़ियों के दिमाग में यह बात घूम रही होगी। हरेंद्र ने कहा कि उनके खिलाड़ियों को इस मुकाबले के स्कोरलाइन को भूलाने की कोशिश करनी होगी।

उन्होंने कहा कि वह मैच अब इतिहास हो चुका है। यह मैच अब बीते समय की बात हो गया है। हमें आगे बढ़ना चाहिए और यहां नया अध्याय लिखने की कोशिश करनी चाहिए। कोच ने युवा खिलाड़ियों से ड्रैग फ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह के ब्रिटेन के खिलाफ शानदार प्रदर्शन को दोहराने की बात कही।

ब्रिटेन पर जीत से टीम के खिलाड़ियों का आत्मविश्वास बढ़ गया है क्योंकि इससे पहले उन्हें दक्षिण कोरिया से हार मिली थी। वर्ष 2009 में अजलन शाह कप की विजेता और 2010 में दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्त चैम्पियन बनने वाली भारतीय टीम ने कल ब्रिटेन को 3-1 से हराया था जबकि उन्हें युवा कोरियाई टीम से पहले मुकाबले में 2-3 से शिकस्त मिली थी।

भारतीय टीम यहां कई शीर्ष खिलाड़ियों के बिना आई है और दिसंबर में नई दिल्ली में होने वाले ओलंपिक क्वालीफायर की तैयारियों में जुटी है। यहां तक कि आस्ट्रेलियाई टीम भी अपने आधा दर्जन खिलाड़ियों के बिना कल मैदान में उतरेगी। आस्ट्रेलिया एक साल में विश्व कप, चैम्पियंस ट्राफी और राष्ट्रमंडल खेल में खिताब जीतने वाली पहली टीम है। आस्ट्रेलिया और भारत का अजलन शाह कप में पांच पांच बार खिताब जीतने का रिकार्ड है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल को भूल जाओः हरेंद्र