DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2003 से ही पाकिस्तानी शहरों में रह रहा था लादेन

2003 से ही पाकिस्तानी शहरों में रह रहा था लादेन

एबटाबाद में मारे गए अल-कायदा सरगना ओसामा बिन लादेन की जिंदगी के आखिरी सालों का अध्ययन करने के लिए पाकिस्तानी अधिकारियों ने देश के पश्चिमोत्तर में स्थित हरिपुर जिले की ओर ध्यान केंद्रित कर लिया है।

लादेन की यमन मूल की पत्नी ने दावा किया था कि उसका पति एबटाबाद आने के पहले लगभग ढाई साल वहीं रहा था। टीवी समाचार चैनलों की खबरों में बताया गया है कि सुरक्षा और खुफिया अधिकारियों ने हरिपुर जिले के चक शाह मोहम्मद खान गांव को पूरी तरह घेर लिया है। लादेन की पत्नी के मुताबिक, अल-कायदा सरगना ढाई साल वहां रहा था।

लादेन के तोरा-बोरा की पहाड़ियों से भागने के बाद से पाकिस्तान के जांचकर्ता उसकी गतिविधियों का पता लगाने की कोशिश कर रहे थे। मीडिया की खबरों के मुताबिक, लादेन के बारे में जितना सोचा जा रहा था, वह उससे भी ज्यादा समय से पाकिस्तान के शहरों में रह रहा था।

लादेन ने लगभग साढ़े सात साल हरिपुर और ऐबटाबाद में बताए। डॉन अखबार ने जांच से जुड़े अधिकारियों के हवाले से बताया है कि इस बारे में लादेन की यमन मूल की 29 वर्षीय पत्नी अमाल अहमद अब्दुल फतह ने खुलासा किया है। उसने बताया है कि लादेन 2005 के पहले चक शाह मोहम्मद खान गांव में रहता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:2003 से ही पाकिस्तानी शहरों में रह रहा था लादेन