DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुआवजे की मांग पर किसान-पुलिस में खूनी संघर्ष

मुआवजे की मांग पर किसान-पुलिस में खूनी संघर्ष

ग्रेटर नोएडा में सुरक्षाकर्मियों और आंदोलनकारी किसानों के बीच हुई हिंसक झड़प में जिसमें तीन सिपाही और तीन किसानों की मौत हो गई जबकि जिलाधिकारी दीपक अग्रवाल गोली लगने से घायल हो गए।

भूमि के लिए बेहतर मुआवजे की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों और पुलिस के बीच हुई झड़प में जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) सहित दर्जनों लोग घायल हो गए। एसएसपी पथराव में घायल हुए।

जमीन के बेहतर मुआवजे की मांग को लेकर उग्र हुए किसानों द्वारा रोडवेज (यूपीएसआरटीसी) के तीन कर्मचारियों को बंधक बना लेने के बाद पुलिस जब इन्हें मुक्त कराने के लिए गौतमबुद्ध नगर जिले के परसौल गांव पहुंची, तब यह झड़प हुई।
     
बंधक बनाए गए रोडवेज के तीन कर्मचारियों को छुड़ाने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल, पीएसी और दंगा विरोधी दस्ते के साथ जिले के अधिकारी परसौल गांव में पहुंचे थे।
     
राज्य के पुलिस महानिदेशक कर्मवीर सिंह ने लखनऊ में बताया कि प्रदर्शनकारियों ने पुलिस दल पर गोलीबारी की जिसमें दो कांस्टेबलों की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि हालात अब नियंत्रण में है और 15 से 20 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
     
गौरतलब है कि बस यातायात के लिए नए रास्ते का सर्वेक्षण करने के दौरान किसानों ने रोडवेज के तीन कर्मचारियों को शुक्रवार को बंधक बना लिया था।

आंदोलन कर रहे किसानों ने सोमवार को ऐलान किया था कि सात मई को फार्मूला वन रेसिंग ट्रैक खोदेंगे। शुक्रवार को उन्होंने यूपी रोडवेज के तीन कर्मचारियों को बंधक बना लिया। शुक्रवार देर रात हुई फायरिंग में आंदोलन का नेतृत्व कर रहे मनवीर सिंह का सहयोगी आच्छेपुर गांव का हरिओम मारा गया। इससे किसानों में रोष व्याप्त था।

रोडवेज कर्मचारियों को छुड़ाने के लिए शनिवार सवेरे करीब 11 बजे दीपक अग्रवाल के नेतृत्व में भारी फोर्स भट्टा पहुंचा। किसानों ने फायरिंग शुरू कर दी। एक गोली डीएम के पैर में लगी और तीन पुलिस कांस्टेबल मनवीर सिंह (रनियावली, बुलंदशहर), मनोहर (रमाला, बागपत) और कालू (कृष्णा नगर, बुलंदशहर) गंभीर रूप से घायल हो गए। जवाबी फायरिंग में भट्टा गांव के किसान रघुराज समेत तीन लोगों घायल हुए। सभी की अस्पताल में मौत हो गई। वहीं डीएम के पैर का ऑपरेशन किया गया, वह खतरे से बाहर हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुआवजे की मांग पर किसान-पुलिस में खूनी संघर्ष