DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिर्फ बेटियों के माता-पिता को 55 वर्ष में पेंशन

सिर्फ बेटियों के माता-पिता को 55 वर्ष में पेंशन

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम और बेटा-बेटी के अंतर को खत्म करने के उद्देश्य से राज्य में ऐसे पति-पत्नी को 55 वर्ष की आयु से पेंशन शुरू करने की घोषणा की है जिनकी सिर्फ बेटियां है।

चौहान ने यह घोषणा शुक्रवार को राज्य के बालाघाट जिले के बालेगांव में पूर्व मंत्री दिलीप भटेरे की पुण्यतिथि कार्यक्रम में अपने संबोधन में की। उन्होंने कहा कि इस योजना में जाति धर्म और गरीबी रेखा का कोई बंधन नहीं होगा। उन्होंने बेटियों की संख्या के मामले में पूरे राज्य में बालाघाट जिले के पहले नंबर पर होने की सराहना करते हुए कहा कि जिले की जनता ने बेटे और बेटी में फर्क नहीं करके न केवल राज्य को बल्कि देश को एक नई राह दिखाई है।

उन्होंने स्वर्गीय दिलीप भटेरे को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वे लांजी क्षेत्र सहित समाज के हर वर्ग का समग्र विकास चाहते थे उनके सपनों एवं विकास कार्यों को राज्य सरकार द्वारा पूरा किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिर्फ बेटियों के माता-पिता को 55 वर्ष में पेंशन