DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कनिमोझी पर फैसला 14 मई को

कनिमोझी पर फैसला 14 मई को

केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत ने शनिवार को 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला मामले में आरोपी तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि की बेटी और सांसद कनिमोझी की जमानत अर्जी पर फैसला 14 मई तक सुरक्षित रख लिया।

सीबीआई के विशेष न्यायाधीश ओ.पी. सैनी ने जमानत अर्जी पर सुनवाई के बाद फैसला 14 मई तक के लिए सुरक्षित रखते हुए कनिमोझी को रोजाना अदालत में पेश होने का निर्देश दिया। अदालत ने यही निर्देश करुणानिधि के परिवार के स्वामित्व वाली कंपनी कलिगनार टीवी के मैनेजिंग डायरेक्टर शरद कुमार को भी दिया।

सीबीआई की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता यू.यू. ललित ने कनिमोझी की जमानत अर्जी का जोरदार विरोध करते हुए कहा कि इन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा जाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि एक निजी कंपनी के जरिए इस चैनल को 200 करोड रुपए दिए गए जिसकी जानकारी कनिमोझी को थी। बचाव पक्ष की ओर से शुक्रवार व शनिवार को वरिष्ठ अधिवक्ता रामजेठमलानी पेश हुए।

उल्लेखनीय है कि एक लाख 76 हजार करोड़ रुपए के इस घोटाले में पूर्व संचार मंत्री ए. राजा न्यायिक हिरासत में हैं। सीबीआई ने करीब 209 करोड़ रुपए के लेन-देन के पूरे नेक्सस का भी अदालत में पर्दाफाश किया। उसने बताया कि इस गैरकानूनी लेन-देन में करीब 16 खातों का इस्तेमाल हुआ। सबसे पहले पैसा डीबी रियल्टी से कुसेगांव कंपनी को गया, उसके बाद वह सिनेयुग कंपनी को गई। इसके बाद यह पैसा कलिगनार टीवी के पास आया।

इससे पहले द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) सांसद और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि की बेटी कनिमोझी 2जी स्पेक्ट्रम मामले में अपनी जमानत याचिका पर सुनवाई के लिए शनिवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत पहुंचीं। 2जी स्पेक्ट्रम मामले में कनिमोझि का नाम सह आरोपी के रूप में शामिल है।

पटियाल हाउस अदालत परिसर में पहुंची कनिमोझी ने पत्रकारों से कहा कि मैं नहीं जानती कि मुझे गिरफ्तार किया जाएगा या नहीं। कनिमोझि ने शुक्रवार को जमानत याचिका दायर की थी, लेकिन अदालत ने फैसला शनिवार तक के लिए टाल दिया था। कनिमोझि की ओर से वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने जमानत के लिए उनके महिला होने के तर्क को आधार बनाया है।

जेठमलानी द्वारा कनिमोझी की ओर से दायर याचिका में कहा गया कि मेरी याचिका को मेरे लिंग, मातृत्व और मेरी साफ छवि के आधार पर स्वीकार किया जाए। मैंने अब तक सबूतों में दखल नहीं दिया है और न ही दूंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कनिमोझी पर फैसला 14 मई को