DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्र बुलाना सरकार का काम, स्पीकर तैयार : सीपी सिंह

झारखंड विधानसभा के स्पीकर चंद्रेश्वर प्रसाद सिंह ने कहा कि अतिक्रमण हटाओ अभियान मुद्दे पर विशेष सत्र आयोजित करना सरकार का काम है। बतौर विधानसभा अध्यक्ष वे सत्र की अध्यक्षता करने के लिए वे 24 घंटे तैयार हैं। सत्र ज्यादा से ज्यादा चले वे इसके लिए हमेशा प्रयास करते रहे हैं। श्री सिंह मेदिनीनगर परिसदन में हिन्दुस्तान के साथ अनौपचारिक बातचीत कर रहे थे।

प्रदेश के मुंडा सरकार द्वारा अतिक्रमण से संबंधित लाये गये अध्यादेश के संबंध में उन्होंने टिप्पणी करने से इंकार करते हुए कहा कि जबतक वे उसका पूरी तरह अध्ययन नहीं कर लेते तबतक कुछ भी बोलना उचित नहीं होगा। परंतु उन्होंने इतना जरूर कहा कि उन्होंने सरकार को दो माह पहले ही रैयती जमीन पर बने सभी मकान को वैध मानने की सलाह दी थी।

साथ ही खुला और ग्रीन भूमि से संबंधित भी मास्टर प्लान तैयार करने का सुझाव दिया था क्योंकि संबंधित भूमि का तत्कालीन और वर्तमान नेचर में काफी बदलाव आ गया है। उन्होंने अतिक्रमण मुद्दे पर समाधान की जगह सियासत ज्यादा किये जाने की बात करते हुए उन्होंने सभी सभी राजनीतिक दलों से दलगत राजनीति से उपर उठकर समाधान की दिशा में कार्य करने की अपील की।

उन्होंने कहा कि जिनका आशियाना उजड़ रहा है उनका दिन में कष्ट तो होता ही है। वे दो माह पूर्व से ही इस कष्ट का समाधान निकालने में लगे हुए हैं। राजनीति में लाभ-घाटा होते रहती है। परंतु सभी को आम जनता की राहत के लिए काम करना चाहिए। विधानसभा में भी इस संबंध में विशेष चर्चा करवाया था।

राज्य में संवैधानिक संकट पैदा होने और राष्ट्रपति शासन लगाये जाने की मांग के संबंध में उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि राज्य में संवैधानिक संकट जैसी कोई स्थिति है। लोकतंत्र में सबको अपनी बात रखने का अधिकार है। उन्होंने आमरण अनशन पर बैठे बाबूलाल मरांडी से मुलाकात को मानवीय दृष्टि से भेंट करार दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सत्र बुलाना सरकार का काम, स्पीकर तैयार : सीपी सिंह