DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ट्रैफिक पुलिस सताए तो करें एसएमएस

ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के शोषण, अवैध वसूली और घूसखोरी की शिकायत मोबाइल से एसएमस कर की जा सकती है। सड़क पर वाहनों की चैकिंग के दौरान ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की अभद्रता और शोषण की लगातार बढ़ रही शिकायतों से पुलिस की गिरती साख को सुधारने के लिए यह पहल की गई है।

दिल्ली की सड़कों पर ट्रैफिक पुलिस की नाइंसाफी की शिकायत ज्वांइट कमिश्नर (ट्रैफिक पुलिस) सत्येन्द्र गर्ग को तुरंत एसएमएस करके की जा सकती है। गर्ग ने शुक्रवार को एक मोबाइल नंबर जनता के लिए जारी करते हुए लोगों से महकमे के किसी भी पुलिसकर्मी की बेझिझक शिकायत करने की अपील की।

साथ ही कहा ‘शिकायत करें लेकिन सबूतों के साथ।’ गर्ग ने लोगों से मामूली शिकायतें न करने की अपील की है। उन्होंने एसएमएस से की गई शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि फेसबुक पर लोगों की प्रतिक्रि याओं से ही वह हकीकत से रूबरू हो पाते हैं। दो दिन पहले ही इंडिया गेट पर वसूली के आरोप में दो पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया।
नाइंसाफी हुई है तो एसएमएस करें 9818708053 पर

(दिल्ली संस्करण)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ट्रैफिक पुलिस सताए तो करें एसएमएस