DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पापा के नक्शे-कदम पर रणबीर

पापा के नक्शे-कदम पर रणबीर

होठों पर पान की लाली..आंखों में कजरे की धार...मूंछ की बारीक सी रेखा..सिर पर लाल टोपी..यानी कुल मिला कर झमाझम टपोरी लुक! यह है युवा दिलों की धड़कन रणबीर कपूर की नई अदा! दर्शकों को उनकी यह अदा बहुत जल्द देखने को मिलेगी। रणबीर ने यह रूप एक खास मकसद के तहत धरा है। मकसद अपने पिता ऋषि कपूर के निभाए चरित्र ‘अकबर’ की याद ताजा करने का।

ऋषि ने फिल्म ‘अमर अकबर एंथोनी’ में अकबर का चरित्र निभाया और एक सुपरहिट कव्वाली पेश की थी- ‘पर्दा है पर्दा।’ यह कव्वाली दर्शक आज तक नहीं भूले हैं। अब ऐसी ही कव्वाली रणबीर ‘चिल्लर पार्टी’ में पेश करेंगे। फिल्म के निर्देशक विकास बहल की मानें तो रणबीर ने खुद को उसी रूप में ढाला है, जिस रूप में ऋषि ने खुद को ढाला था।

रणबीर ने एक तरह से अपना मेकओवर किया है। उन्हें पूरी उम्मीद है कि रणबीर को इस कव्वाली से पिता जैसी ही लोकप्रियता मिलेगी।  दरअसल रणबीर को बचपन से अपने पिता की यह कव्वाली पसंद है। जब उन्हें इसका हिस्सा बनने का मौका मिला तो उनकी खुशी की इंतेहा नहीं रही।

विकास बताते हैं, ‘रणबीर ने काफी सहयोग किया, उनकी वजह से ही हम इतना अच्छा सोच पाए।’ हालांकि यह गाना अभी तक ऋषि ने नहीं देखा है। विकास बताते हैं कि अभी गाने की एडिटिंग बाकी है, उसके बाद यह गाना ऋषि कपूर को दिखाया जाएगा। अब देखना है कि बेटे ‘अकबर’ से पापा ‘अकबर’ इंप्रेस होते हैं या नहीं!

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पापा के नक्शे-कदम पर रणबीर