DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निजी बस परमिट के खिलाफ रोडवेज कर्मियों का प्रदर्शन

हरियाणा में रोडवेज कर्मचारी यूनियन की संयुक्त कार्य समिति के आह्वान पर शुक्रवार को यहां सैंकड़ों कर्मचारियों ने सरकार की नई परिवहन नीति के तहत निजी रूट परमिटों के खिलाफ काले झंडों और जमकर नारेबाजी की।

कर्मचारियों ने वर्कशॉप प्रांगण में एकत्र होकर गेट मीटिंग की। इस अवसर पर कार्य समिति के सदस्य दिलबाग सिंह गिल ने कहा कि गत तीन मई को सरकार ने 2700 रूट परमिट देने की अधिसूचना जारी करने से रोडवेज के कर्मचारियों में भारी रोष है और आम जनता के साथ धोखा है।

ग्राम पंचायतों ने उपायुक्त के माध्यम से जिला परिवहन अधिकारी के माध्यम से सरकारी बसों की मांग की है। सरकार अपने चहेतों को फायदा पहुंचाने के लिए कर्मचारी तथा जनता की मांगों को नजरअंदाज कर रही है। इसलिए समिति ने फैसला किया है कि अगले चरण में राज्य के सभी डिपो पर भूख हड़ताल की जाएगी।

इसके बाद 18-19 मई को पानीपत में परिवहन मंत्री ओमप्रकाश जैन के आवास का घेराव करते हुए जोरदार प्रदर्शन किया जाएगा। इसके अलावा आठ जून को राज्य भर में बसों का चक्का जाम करते हुए राज्यव्यापी हड़ताल की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:निजी बस परमिट के खिलाफ रोडवेज कर्मियों का प्रदर्शन