DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केन्द्रीय मंत्री मुकुल वासनिक के खिलाफ वारंट जारी

बिहार में मुजफ्फरपुर जिले की अदालत ने शुक्रवार को केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता मंत्री मुकुल वासनिक के खिलाफ वारंट जारी करते हुए उन्हें 14 जून तक न्यायालय के समक्ष उपस्थित होने का आदेश दिया।

मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी आरसी मालवीय ने अधिवक्ता एसके ओझा की ओर से दर्ज कराए गए एक मामले पर सुनवाई के बाद वासनिक के खिलाफ वारंट जारी कर उन्हें यह आदेश दिया। ओझा ने अपनी याचिका में आरोप लगाया है कि वासनिक ने कांग्रेस के बिहार मामलों के प्रभारी के रूप में पार्टी टिकट पर चुनाव लड़ने वालों से भारी रकम की वसूली की और पार्टी टिकट को बेच दिया।

ओझा ने आरोप लगाया कि वह भी कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने के इच्छुक थे लेकिन वासनिक ने इसी कारण उन्हें पार्टी टिकट नहीं दिया। अधिवक्ता ओझा ने पिछले वर्ष बिहार विधान सभा चुनाव के बाद मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में मामला दर्ज कराया था।

न्यायिक दंडाधिकारी ने इस वर्ष 17 जनवरी को इस मामले में संज्ञान लेते हुए वासनिक को अदालत के समक्ष उपस्थित होने के लिए सम्मन जारी किया था। सम्मन जारी होने के बाद भी वासनिक अदालत के समक्ष उपस्थित नहीं हुए जिसके कारण उनके खिलाफ शुक्रवार को वारंट जारी किया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केन्द्रीय मंत्री मुकुल वासनिक के खिलाफ वारंट जारी