DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जनता दरबार में ब्यूटी क्वीन से लेकर बॉडी बिल्डर तक

 शहर का नगर निगम चुनाव राजनीतिज्ञों के बारे में प्रचलित धारणाओं को बदल दिया है। जी हां, गुड़गांव नगर निगम के पहले चुनाव में सियासत में माहिर तो अपना भाग्य आजमा ही रहे हैं ग्लैमर और कारपोरेट जगत से जुड़े लोग भी जनता दरबार में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की जुगत में हैं। बॉडी बिल्डिंग, ग्लैमर एवं खेल जगत में अपनी पहचान बनाने के बाद अब जनता के दुख दर्द को समझने के लिए गली मुहल्लों की खाक छानने में लगे हैं।


पवनीत गिल 1996 के मिस इंडिया कांस्टेस्ट में हिस्सा ले चुकी हैं। बाद में उन्होंने जेट एयरवेज में बतौर एयर होस्टेज काम किया। फिलहाल वह वार्ड 34 से पार्षद बनने के लिए दावा ठोक रही हैं। ग्लैमर की दुनिया से राजनीति में कदम रखने को लेकर वह कहती हैं कि क्षेत्र का विकास चंद राजनेताओं के रहमोकरम पर निर्भर हो जाता है ऐसे में वे आम आदमी की नहीं सुनते। इसलिए आम आदमी को भी राजनीति में कदम रखना चाहिए। इसी वार्ड में सिक्यूरिटी इक्यूपमेंट्स के प्रोडक्शन और कारपोरेट वर्ल्ड में उसकी ट्रेनिंग के लिए जानी जाने वाली अमनदीप सिंह इन दिनों घर-घर घूमकर वोट मांग रही हैं। सिक्यूरिटी इक्यूपमेंट बनाने वाली कंपनी की एमडी अब पार्षद बनकर बिजली, पानी, सीवर, सड़क की समस्या सुलझाना चाहती हैं।


वहीं, राज्य के बॉडी बिल्डिंग चैंपियन रह चुके अनूप सिंह वार्ड 17 से चुनाव लड़ रहे हैं। फिलहाल वह बॉडी बिल्डिंग के कोच हैं। शहर में इनके कई जिम हैं मगर अब सामाजिक जीवन से भ्रष्टाचार मिटाने के मुद्दे को लेकर पार्षद बनना चाहते हैं।


वार्ड 19 के एक प्रत्याशी की होर्डिग में लिखा है मुकेश डागर कोच। मुकेश कॉर्फबॉल की इंडियन टीम में रह कर कॉर्फबॉल वर्ल्ड कप में हिस्सा ले चुके हैं। बास्केट बॉल के राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी रह चुके 37 वर्षीय मुकेश अब कोच का काम करते हैं। मुकेश कहते हैं कि सामाजिक जीवन में भी कठिन परिश्रम है और खेलों में भी। खिलाड़ी औरों की अपेक्षा बढ़िया राजनेता हो सकता है।


वार्ड संख्या 30 की उम्मीदवार निशा सिंह कई वर्ष कॉरपोरेट वल्र्ड से जुड़ी रही हैं।  इंजीनियरिंग के बाद उन्होंने एमबीए किया और अब पार्षद बनकर जन समस्याओं से जूझना चाहती हैं। निशा अपनी इंजीनियरिंग और प्रबंधन के  गुरों का इस्तेमाल जन समस्याओं को हल करने में इस्तेमाल का वादा करती नजर आती हैं। वार्ड संख्या 15 के 24 वर्षीय प्रत्याशी सतीश चैंपियन नेशनल मार्शल आर्ट की 2010 की पठानकोट में हुई राष्ट्रीय प्रतियोगिता के रजत पदक विजेता हैं। युवा प्रत्याशी सतीश ने अपनी होर्डिग में सतीश कुमार की जगह सतीश चैंपियन लिख रखा है। इनके अलावा कुछ वार्डो में सेना के पूर्व अधिकारी भी प्रत्याशी हैं।

सियासत में ग्लैमर का तड़का
पवनीत गिल, मिस इंडिया कंटेस्टेंट-1996
अमनदीप सिंह, सिक्यूरिटी इक्यूपमेंट बनाने वाली कंपनी की एमडी
अनूप सिंह, राज्य स्तरीय बॉडी बिल्डिंग का पूर्व चैंपियन
मुकेश डागर, बास्केट बॉल का पूर्व राष्ट्रीय खिलाड़ी
निशा सिंह, कॉरपोरेट वल्र्ड से जुड़ी
सतीश, नेशनल मार्शल आर्ट का पूर्व चैंपियन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जनता दरबार में ब्यूटी क्वीन से लेकर बॉडी बिल्डर तक