DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीमेंट से भरा कैंटर पलटने से बेटे की मौत, पिता गंभीर

तावडू सोहना मार्ग पर घाटी क्षेत्र मे सीमेंट से भरा कैन्टर पलट जाने से बेटे की मौत हो गई व पिता सहित दो लोग घायल हो गए। घायलों को सोहना के सामान्य अस्पताल मे दाखिल कराया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने हादसे में मरने वाले युवक के शव को क्रेन की मदद से बाहर निकालने के बाद पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल में भेज दिया।
शुक्रवार की दोपहर बाद सोहना से तावडू जाने वाले मार्ग पर सीमेंट से भरे केंन्टर के घाटी से उतरते समय ब्रेक फेल हो गए। केंटर पहले तो सामने जा रहे सीमेंट से भरे टाटा 407 से टकराया। उसके बाद घाटी क्षेत्र के देवीलाल मोड़ पर खराब खड़े डंपर से टकराने के बाद पलट गया। केंटर मे चालक पम्मी सहित तीन मजदूर सवार थे। एक मजदूर चालक पम्मी के साथ आगे बैठा था । दो लोग पीछे बैठे थे। कैंटर पलटने से चालक पम्मी तो बच गया। लेकिन तीनों मजदरो को चोटे लगी। 25 वर्षीय मजदूर मौहम्म्द रफीक पुत्र जूगनू सीमेंट के कट्टो के नीचे दब गया। हादसे की आवाज को सूनकर सोहना थाना प्रभारी भारी दलबल के साथ घटना स्थल पर पहुॅच गया। पुलिस ने हादसे मे घायल हुए दो मजदूरो को अपनी गाडी से सामान्य अस्पताल मे पहुॅचाया। उसके बाद मौके पर खडे डंपर को ले जा रही क्रेन की मदद से पुलिस ने सीमेंट से भरे र्केटर के नीेचे दबे रफीक को बाहर निकाला। जिसके शव को पोस्टमार्टम के लिए सोहना के सामान्य अस्पताल मे भेजे दिया। इस हादसे मे मरने वाले रफीक का पिता जूगनू व छोटू पुत्र सफीक को सोहना के समान्य अस्पताल मे दाखिल कराया गया। जो सभी लोग उत्तर प्रदेश के जिला बहाराईच के गावं केसरगंज के निवासी है। जहां से डाक्टरो ने गुड़गांव के लिए रेफर कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीमेंट से भरा कैंटर पलटने से बेटे की मौत