DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्वोत्तर में पवनहंस हेलीकाप्टरों की सेवा पर रोक

पूर्वोत्तर में पवनहंस हेलीकाप्टरों की सेवा पर रोक

अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दोरजी खांडू और चार अन्य की शनिवार को हेलीकाप्टर दुर्घटना में मौत के बाद पूर्वोत्तर क्षेत्र में पवनहंस वाणिज्यिक हेलीकाप्टर सेवाओं पर रोक लगा दी गई है।

पवनहंस हेलीकाप्टर्स लिमिटेड (पीएचएचएल) के सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि एशिया की सबसे बड़ी हेलीकाप्टर कंपनी की उड़ानें रविवार से संचालित नहीं हो रही हैं क्योंकि नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) क्षेत्र में संचालित होने वाले उसके हेलीकाप्टरों की जांच और समीक्षा कर रहा है।

सूत्रों ने बताया कि डीजीसीए इस बात की भी जांच करेगा कि दुर्घटना होने के बावजूद खांडू के हेलीकाप्टर में लगे आपात लोकेटर ट्रांसमीटर (ईएलटी) ने संकेत क्यों नहीं भेजे। उन्होंने कहा कि आपात स्थिति में हेलीकाप्टर की स्थिति का पता लगाने के लिए लगे ईएलटी के संकेतों को इसरो के उपग्रह अथवा उस क्षेत्र में उड़ने वाला कोई भी विमान पकड़ सकता था क्योंकि यह उपकरण दुर्घटना होने की स्थिति में स्वत: सक्रिय हो जाता है।   

सूत्रों ने बताया कि लेकिन इस मामले में इसरो के उपग्रह या खोज अभियान में लगे विमान संकेतों को नहीं पकड़ पाए। डीजीसीए इस बात की भी जांच करेगा कि हेलीकाप्टर में लगा ईएलटी सक्रिय क्यों नहीं हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूर्वोत्तर में पवनहंस हेलीकाप्टरों की सेवा पर रोक