DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैकेनिकल इंजीनियर जो तोड़ता था लोगों के दांत

मैकेनिकल इंजीनियर जो तोड़ता था लोगों के दांत

मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य विभाग की भोपाल में झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ चलाई गई मुहिम में छापे की कार्रवाई के दौरान एक ऐसा डेंटिस्ट मिला, जिसके पास डिप्लोमा तो मैकेनिकल इंजीनियर का है, मगर वह लोगों के दांत निकालने का काम करता था।

भोपाल के मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी (सीएमएचओ) कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, भोपाल के इब्राहिमपुरा इलाके में गुरुवार को जब छापे की कार्रवाई की गई तो साइना लिबर्टी डेंटल क्लीनिक के डॉ गुफरान अली एवं सैयद अली के पास मैकेनिकल इंजीनियरिंग का डिप्लोमा मिला।

पूछताछ में उन्होंने कहा कि उनके क्लीनिक में डेंटिस्ट आते हैं और मरीजों का इलाज करते हैं। लेकिन वे किसी ऐसे डॉक्टर का नाम नहीं बता सके। छापे की कार्रवाई के दौरान डॉ कटारे डेंटल क्लीनिक नामक एक डिस्पेंसरी का कथित संचालक ताला डालकर भाग खड़ा हुआ।

सीएमएचओ कार्यालय के अनुसार, शहर में झोलाछाप डाक्टरों के खिलाफ अभियान अभी जारी है और दोषी पाए जाने वाले सभी ऐसे फर्जी डॉक्टरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैकेनिकल इंजीनियर जो तोड़ता था लोगों के दांत