DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हसन अली के खिलाफ चार्जशीट दाखिल

हसन अली के खिलाफ चार्जशीट दाखिल

प्रवर्तन निदेशालय ने पुणे स्थित घोड़ा फार्म के मालिक हसन अली खान और उसके सहयोगी काशीनाथ तापुरिया के खिलाफ धन के कथित गोल माल मामले में आरोप पत्र दाखिल किया।

हसन अली (53) पर ज्यूरिख स्थित यूनियन बैंक आफ स्विटजरलैंड में आठ अरब डॉलर सहित विदेश में भारी संख्या में काला धन जमा करने का आरोप है।

खान को सात मार्च को लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने हसन अली सहित काला धन जमा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने में अक्षमता को लेकर सरकार की जमकर खिंचाई की थी।

कोलकाता के कारोबारी तापुरिया की गिरफ्तारी भी खान की गिरफ्तारी के कुछ समय बाद ही कर ली गई थी। दोनों को मुंबई में न्यायिक हिरासत में रखा गया है।

खान पर आतंकवादी संपर्कों को लेकर भी नजर रखी जा रही है, क्योंकि संदेह है कि उसने अंतरराष्ट्रीय हथियार तस्कर अदनान खाशोगी के काले धन को वैध बनाने में मदद की है। खाशोगी के आतंकवादी संगठनों के साथ कथित तौर पर संबंध रहे हैं।

खान के खिलाफ धन शोधन, हवाला कारोबार में लिप्त होने, गैरकानूनी तरीकों से विदेशी नागरिकों के जरिए और धोखाधड़ी से देश के बाहर नकदी और मूल्यवान परिसंपत्तियों को भेजने के आरोप हैं। हसन पर फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल कर मुंबई और पटना से पासपोर्ट हासिल करने का आरोप है।

प्रवर्तन निदेशालय ने बिहार के कांग्रेसी नेता अमलेंदु कुमार पांडेय के माध्यम से पटना के क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय से यात्रा दस्तावेज हासिल करने में हसन की मदद करने के लिए पुडुचेरी के राज्यपाल इकबाल सिंह से भी पूछताछ की है। पांडेय भी जांच के दायरे में हैं। कहा जा रहा है कि सिंह और खान के बयान भी आरोप पत्र का हिस्सा हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हसन अली के खिलाफ चार्जशीट दाखिल