DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुमला में पीएलएफआई ने की रिटायर्ड फौजी की हत्या

जिला मुख्यालय से करीब दस किमी दूर वृंदा बहुआरटोली में पीएलएफआई उग्रवादियों ने पूर्व सैनिक देवचरण साहू (46) को पुलिस मुखबिर करार दे गोली मार कर हत्या कर दी। घटना गुरुवार की सुबह पांच बजे की है। उस वक्त पूर्व सैनिक मवेशी खोल उनकी चारा की व्यवस्था कर रहा था।

घटना स्थल पर पर्चा छोड़ कर पीएलएफआई ने इसकी जिम्मेवारी ली है। देवचरण साहू गांव में ही परचून की दुकान चलाता था और ट्रैक्टर भी ले रखा था। संयोगवश जब पुलिस इलाके में निकलती थी, तो उसके घर के सामने अपनी गाड़ी लगाया करती थी। पुलिस सूत्रों का कहना है कि पूर्व सैनिक होने के नाते वह अराजक तत्वों के दबाव में नहीं आता था।

ग्रामीण यह भी बताते हैं कि उग्रवादियों ने उससे लेवी की मांग की थी। सुबह पश्चिम दिशा की ओर से पीएलएफआई के दो अपराधी वहां पहुंचे और राइफल से तीन गोलियां दाग दीं। इससे उनकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। परिजनों के अनुसार घटना को अंजाम देने के बाद हमलावर जिस ओर से आए थे, उसी दिशा में भाग निकले।

इधर पुलिस ने हमलावरों के शिनाख्त गांव के ही विश्वनाथ गोप और विनोद विद्रोही के रूप में की है। दोनों पीएलएफआई के कुख्यात बसंत गोप के दस्ते के प्रमुख सदस्य हैं। घटना की सूचना मिलते ही इंस्पेक्टर आमीष हुसैन, थाना प्रभारी जीतेंद्र कुमार सिंह सदल-बल पहुंचे। मामले की तहकीकात करते हुए छापामारी अभियान तेज कर दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गुमला में पीएलएफआई ने की रिटायर्ड फौजी की हत्या