DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मधेपुरा-सुपौल में जमकर हंगामा

सीपीआई एम के अनिश्चितकालीन बाढ़पीड़ित कफ्यरू में सुपौल व मधेपुरा में हाारों आंदोलनकारियों ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। मधेपुरा में प्रदर्शन में पहुंचे कार्यकर्ताओं में कलेक्ट्रेट पर जमकर उत्पात मचाया। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव भी किया जिससे भगदड़ मच गई। पथराव के बाद पुलिस की लाठीचार्ज से अफरातफरी में दो दर्जन लोग जख्मी हो गए। वहीं आंदोलनकारियों के पथराव से कई पुलिसकर्मियों के भी जख्मी होने की खबर है। सुपौल में सोमवार को आयोजित अनिश्चितकालीन बाढ़ पीड़ित कफ्यरू का व्यापक असर रहा। सबसे अधिक प्रभाव रल एवं सड़क यातायात पर पड़ा। हाारों की संख्या में पहुंचे बाढ़ पीड़ितों ने लोहिया नगर चौक स्थित उत्तरी रलवे ढाला पर धरना देकर घंटों रल परिचालन एवं सड़क मार्ग बंद रखा।ड्ढr ड्ढr मधेपुरा में कलेक्ट्रेट के सामने भाषण प्रदर्शन के दौरान ही आंदोलनकारी उग्र हो गए और पथराव शुरू कर दिया। एसपी ओएन भाष्कर ने बताया कि पुलिस ने काफी संयम से काम लिया है। प्रदर्शनकारियों द्वारा किये गये पथराव में मेजर विजय कुमार सिंह सहित एक दर्जन से अधिक पुलिस के जवान जख्मी हुए। डीएसपी शैलेश कुमार सिन्हा को भी चोटे आयी है। एसपी ने बताया कि प्रदर्शनकारियों तोड़फ ोड़ के बाद आग लगाने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन पुलिस की तत्परता से टाल दिया गया। एसपी ने बताया कि इस बाबत 16 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है।ड्ढr ड्ढr सुपौल में अहले सुबह से ही भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी) के हाारों कार्यकर्ताओं पार्टी के झंडा, बैनर, लाठी, झारू, तलवार लेकर सड़क पर उतर आये थे। कफ्यरू में बड़ी संख्या में पहुंचे बाढ़ पीड़ितों ने निवर्तमान विधान पार्षद बलराम सिंह यादव के नेतृत्व में राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारबाजी की। सीपीआईएम के जिलामंत्री बलराम सिंह यादव ने बताया कि बाढ़ पीड़ित कफ्यरू जिले में अनिश्चितकालीन लागू रहेगा। उन्होंने कहा कि समझौता वार्ता सही रूप में नहीं हुआ तो यह कार्यक्रम अनिश्चितकालीन में तब्दील हो जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मधेपुरा-सुपौल में जमकर हंगामा