DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोच्चि फिर पड़ा कोलकाता पर भारी

कोच्चि फिर पड़ा कोलकाता पर भारी

ब्रैड हाज का आखिरी ओवर का धमाल और रैफी गोमेज का चार ओवर का स्पैल कोच्चि टस्कर्स केरल को गुरुवार कोयहां इंडियन प्रीमियर लीग के उतार चढ़ाव वाले मैच में कोलकाता नाइटराइडर्स पर 17 रन की जीत दिला गया।

कोच्चि की कोलकाता पर यह दूसरी जीत है जिससे उसने शाहरूख खान की टीम के विजय अभियान पर भी रोक लगाई। कोच्चि की इस जीत में कप्तान महेला जयवर्धने ने भी अहम भूमिका निभाई जिन्होंने विषम परिस्थितियों में 41 गेंद पर दो चौकों और इतने ही छक्कों की मदद से 55 रन बनाए।

लेकिन वह हाज थे जिन्होंने 19 गेंद पर 35 रन की तूफानी पारी खेली। उन्होंने हमवतन आस्ट्रेलियाई ब्रेट ली के आखिरी ओवर में दो छक्के और दो चौके जड़कर कुल 22 रन बटोरे जिससे कोच्चि पांच विकेट पर 156 रन बनाने में सफल रहा।

कोलकाता को सलामी बल्लेबाज इयोन मोर्गन (66) और जाक कैलिस (45) ने अच्छी शुरुआत दिलाई लेकिन केरल के दो युवा गेंदबाजों रैफी गोमेज और प्रशांत परमेश्वरन ने बीच के ओवरों में कसी हुई गेंदबाजी करके कोच्चि को कोलकाता पर लगातार दूसरी जीत दिला दी। गोमेज ने 14 रन देकर दो विकेट लिए जबकि परमेश्वरन ने चार ओवर में 21 रन दिए। यही वजह रही कि यूसुफ पठान (17) जैसे बिग हिटर की क्रीज पर मौजूदगी के बावजूद कोलकाता सात विकेट पर 139 रन ही बना पाया।

कोच्चि ने इससे पहले कोलकाता में भी नाइटराइडर्स को छह रन से हराया था। उसकी यह दस मैच में पांचवीं जीत है जिससे वह दस अंक के साथ पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। नाइटराइडर्स ने तीन जीत के बाद हार का स्वाद चखा। उसके अब दस मैच में 12 अंक हैं ।

गोमेज को नौवें ओवर में गेंदबाजी पर लाया गया और उनके अगले चार ओवर मैच के टर्निंग प्वाइंट बन गए। कैलिस और मोर्गन ने पहले विकेट के लिए 62 गेंद पर 69 रन की साझेदारी की। लेकिन इस पिच पर रन बनाना आसान नहीं था और टीम पर दबाव बन गया।

ऐसे समय में गोमेज ने लगातार गेंद पर कैलिस और कप्तान गौतम गंभीर को आउट करके कोलकाता की मुश्किलें बढ़ा दी। उनके अलावा आर विनयकुमार ने भी अच्छी गेंदबाजी की और 28 रन देकर दो विकेट लिए।
कैलिस और मोर्गन ने शुरू में आरपी सिंह को अपने निशाने पर रखा जिन्होंने चार ओवर में 44 रन दिये। जब कोलकाता की सलामी जोड़ी दसवें ओवर के बाद बड़े शाट खेलने पर ध्यान दे रही थी तब गोमेज का अगला ओवर नाइटराइडर्स की चूलें हिला गया।

गोमेज ने पहले धीमी लेगकटर पर कैलिस का आफ स्टंप उखाड़ा और फिर अगली गेंद पर गंभीर को कैच आउट कराया। कोलकाता का कप्तान गुडलेंग्थ गेंद पर आगे बढ़कर लंबा शाट खेलना चाहता था लेकिन गेंद सीधे जयवर्धने के हाथों में चली गई।

मोर्गन ने आरपी सिंह के अगले ओवर में 15 रन बटोरे लेकिन विनयकुमार ने नये बल्लेबाज मनोज तिवारी (1) को मिडविकेट पर कैच करा दिया। दूसरे गेंदबाजों पर बल्लेबाजों ने कुछ रन बटोरे लेकिन वे गोमेज और परमेश्वरन पर हावी नहीं हो पाए।

नाइटराइडर्स को 12 गेंद पर 31 रन की दरकार थी लेकिन 19वें ओवर में मोर्गन रन आउट हो गये जबकि पठान ने एक्स्ट्रा कवर पर कैच थमा दिया। मोर्गन ने 51 गेंद की अपनी पारी में आठ चौके और दो छक्के लगाए। कोलकाता के हाथ से मैच फिसल गया था। उसने आखिरी ओवर में भी दो विकेट गंवाए।

इससे पहले 19 वर्षीय तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट ने शुरू में ही दो विकेट लेकर कोच्चि को बैकफुट पर डाल दिया था। ब्रेंडन मैकुलम (1) अपनी पूर्व टीम के खिलाफ कोई करिश्मा नहीं दिखा पाए और उनादकट की आफ स्टंप से बाहर जाती गेंद पर स्लिप में कैलिस को कैच थमा बैठे।

पार्थिव पटेल (21) ने आते ही ब्रेट ली पर दो चौके जमाए लेकिन उनादकट की शार्ट पिच गेंद को मिडविकेट के उपर से सीमा रेखा पार भेजने के प्रयास में वह रजत भाटिया को कैच देकर पवेलियन लौटे।

जयवर्धने और माइकल क्लिंगर (29) ने तीसरे विकेट के लिए 51 रन की साझेदारी करके टीम को शुरुआती झटकों से उबारने की कोशिश की। पठान ने क्लिंगर को ललचाती हुई गेंद पर सीमा रेखा पर लपकवाया। रविंदर जडेजा (8) अधिक देर तक नहीं टिक पाए और रजत भाटिया के शिकार बने।

जयवर्धने ने हालांकि एक छोर संभाले रखा। उन्होंने इस बीच सर्वजीत लाडढा की फ्री हिट वाली गेंद पर पारी का पहला छक्का जड़कर आईपीएल में अपने 1000 रन भी पूरे किए। वह इस मुकाम पर पहुंचने वाले 18वें बल्लेबाज हैं।

कोच्चि के कप्तान ने भाटिया की गेंद छह रन के लिये भेजकर रन गति तेज करने की कोशिश की और फिर कैलिस पर चौका जड़कर 38 गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया। वह आखिर में इसी ओवर में तेजी से दूसरा रन चुराने के प्रयास में रन आउट हुए।

टवेंटी-20 क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले हाज ने आखिरी ओवर में ली की लगातार चार गेंद पर छक्का, चौका, छक्का और चौका जमाया। ली ने अपना पहला ओवर मेडन किया लेकिन बाकी तीन ओवर में वह 42 रन लुटा गए। कोलकाता की तरफ से उनादकट ने 25 रन देकर दो विकेट लिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोच्चि फिर पड़ा कोलकाता पर भारी