DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

AI प्रबंधन की मुश्किलें बढ़ीं, केबिन-क्रू ने मांगा समान वेतन

AI प्रबंधन की मुश्किलें बढ़ीं, केबिन-क्रू ने मांगा समान वेतन

एयर इंडिया प्रबंधन की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं। पायलटों की हड़ताल तो चल ही रही है, अब आल इंडिया केबिन क्रू एसोसिएशन (एआईसीसीए) ने विलय करार को तुरंत लागू करने, बेहतर वेतन तथा उड़ान के तय घंटों के अलावा एयरलाइन में भ्रष्टाचार की संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) जांच की मांग की है।

एआईसीसीए के महासचिव संजय लजार ने गुरुवार को यहां कहा कि हम एयरलाइन में व्याप्त भ्रष्टाचार की जेपीसी जांच चाहते हैं। हम चाहते हैं कि दोनों कंपनियों के विलय, विमान सौदों, दिल्ली और मुंबई हवाई अड्डों के निजीकरण तथा भूमि घोटाले की जांच हो।

उन्होंने कहा कि हम पायलटों की समान वेतन की मांग का समर्थन करते हैं। पूर्व इंडियन एयरलाइंस के हमारे केबिन क्रू सदस्यों के साथ भेदभाव हो रहा है। हम अपने वेतन में भी बढ़ोतरी की मांग करते हैं। और सभी के लिए 80 घंटे का उड़ान भत्ता चाहते हैं।
    
हालांकि, लजार ने कहा कि वह हड़ताल के पक्ष में नहीं हैं। उन्होंने हड़ताली पायलटों से अपना आंदोलन समाप्त करने की अपील की। उन्होंने कहा कि एयरलाइन इस समय हड़ताल बर्दाश्त करने की स्थिति में नहीं है। उन्होंने कहा कि हम अपनी मांगों के लिए हड़ताल पर जाने के पक्ष में नहीं हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:AI प्रबंधन की मुश्किलें बढ़ीं, केबिन-क्रू ने मांगा समान वेतन