DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लादेन को धोखे से जवाहिरी ने मरवाया

लादेन को धोखे से जवाहिरी ने मरवाया

अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को उसके ही खास सहयोगी माने जाने वाले आयमन अल़जवाहिरी ने धोखा दिया और अमेरिकी बलों को उसके छिपने के ठिकाने तक पहुंचाने में उसका ही हाथ था।

अखबार वतन ने अरब सूत्रों के हवाले से कहा कि अलकायदा में दोनों शीर्ष नेताओं के बीच तनाव चल रहा था। जिस संदेशवाहक के जरिये अमेरिकी बल ओसामा तक पहुंचे, वह जवाहरी के प्रति अधिक वफादार था।

अखबार के अनुसार, जवाहिरी मिस्र में अलकायदा के गुट का नेतृत्व करता था और वह सन 2004 में लादेन के बीमार पड़ने के बाद संगठन पर पूर्ण नियंत्रण चाहता था।

संदेशवाहक एक पाकिस्तानी नागरिक था, कुवैती नहीं जैसा कि अमेरिका को संदेह था। उसे पता था कि उसका पीछा किया जा रहा है, लेकिन उसने इस तथ्य की अवहेलना की।

अखबार का दावा है कि यह जवाहिरी गुट का था जिसने ओसामा को अफगानिस्ताऩ-पाकिस्तान सीमा के पास के इलाके से ऐबटाबाद जाने के लिये मनाया।

इस योजना को अलकायदा के प्रमुख कमाण्डर सैफ अल अदल ने बनाया। मिस्र मूल का अदल पिछले साल ईरान से पाकिस्तान लौटा था, जहां वह 9/11 के हमले के बाद गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लादेन को जवाहिरी ने मरवाया