DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो और फर्जी पायलट दिल्ली में गिरफ्तार

फर्जी अंकपत्र के आधार पर व्यावसायिक उड़ान लाइसेंस हासिल करने के आरोप में दो युवा पायलटों को गिरफ्तार किया गया है। फर्जी लाइसेंस मामले में गिरफ्तार कुल लोगों की संख्या 18 हो गयी है।

पुलिस उपायुक्त (अपराध) अशोक चांद ने कहा कि गिरफ्तार पायलटों की पहचान परम प्रकाश और अनिर्बन सन्नीग्राही के रूप में हुई है। चांद ने कहा कि इन गिरफ्तारियों के साथ पायलट का लाइसेंस हासिल करने के लिये फर्जी अंकपत्र देने वाले तीन मॉड्यूल का हमने भंडाफोड़ किया गया है। उन्होंने कहा कि तीन और पायलटों एवं दो बिचौलियों को अभी गिरफ्तार किया जाना है।

इसके साथ ही दिल्ली पुलिस ने दस पायलटों, डीजीसीए के तीन अधिकारियों, एक बिचौलिये और धोखाधड़ी करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है। जयपुर पुलिस ने भी दो फर्जी पायलटों को गिरफ्तार किया था।

कोलकाता के रहने वाले सन्नीग्राही और प्रकाश ने व्यावसायिक पायलट लाइसेंस के लिये कथित तौर पर एवियेशन मेटेरोलॉजी का जाली अंकपत्र डीजीसीए को मुहैया कराया था।

चांद ने कहा कि प्रकाश को लाइसेंस मिल गया था, जबकि सन्नीग्राही को अभी लाइसेंस नहीं मिला है, क्योंकि उसके आवेदन पर संदेह था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो और फर्जी पायलट दिल्ली में गिरफ्तार