DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंकों लोन 22 प्रतिशत, जमा राशि 17.5 प्रतिशत बढ़ी

देश में वाणिज्यिक बैंकों द्वारा दिए गए लोन में 22 अप्रैल, 2011 को एक साल पहले की तुलना में 22 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी और यह 40 लाख करोड़ रुपये से भी ऊपर पहुंच गया।

बैंक लोन में वृद्धि कारोबार में तेजी का संकेत माना जाता है। भारतीय रिजर्व बैंक के ताजा आंकड़ों के अनुसार, इस अवधि के दौरान लोन का उठाव बढ़कर 40.39 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो एक साल पहले इसी तिथि पर 33.10 लाख करोड़ रुपये था।
     
इसी अवधि के दौरान बैंकों के पास जमा राशि बढ़कर 54.70 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गयी, जो एक साल पहले 46.56 लाख करोड़ रुपये थी। इस तरह सालाना आधार पर बैंक जमाओं में 17.47 प्रतिशत का इजाफा हुआ।
    
रिजर्व बैंक ने हाल में सालाना मौद्रिक नीति में कहा था कि देश की अर्थव्यवस्था में तेजी से लोन का उठाव बढ़ने की संभावना है।
  
पिछले वित्त वर्ष बैंकों का लोन 21.5 प्रतिशत बढ़ा, जबकि जमा में 15.5 फीसद का इजाफा हुआ। केंद्रीय बैंक ने 2010-11 की मौद्रिक नीति में लोन में 20 प्रतिशत और जमा में रखा है, जबकि जमा में 17 फीसद की बढ़ोतरी का अनुमान लगाया था। हालांकि इस बार रिजर्व बैंक ने लोन या जमा की वृद्धि के बारे में कोई अनुमान नहीं लगाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंकों लोन 22 प्रतिशत, जमा राशि 17.5 प्रतिशत बढ़ी