DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'ऑपरेशन लादेन जैसा कुछ किया तो होंगे गंभीर परिणाम'

'ऑपरेशन लादेन जैसा कुछ किया तो होंगे गंभीर परिणाम'

पाकिस्तान ने गुरुवार को भारत को ऐबटाबाद जैसे किसी भी अभियान के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा कि उसके ऐसे किसी भी दुस्साहस के भयानक परिणाम होंगे। पाकिस्तान के विदेश सचिव सलमान बशीर ने भारतीय प्रतिष्ठानों और सशस्त्र बलों पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के एजेंडा को पलट देने का आरोप लगाया और कहा कि वे ऐसे बयान दे रहे हैं जो चिंता का विषय हैं।

अल कायदा के प्रमुख ओसामा बिन लादेन को ऐबटाबाद शहर में अमेरिका के विशेष बलों द्वारा सोमवार को मार गिराए जाने के बाद किसी वरिष्ठ पाकिस्तानी अधिकारी द्वारा आयोजित यह पहला संवाददाता सम्मेलन है। बशीर ने कहा कि अमेरिका की एकपक्षीय कार्रवाई की नकल करने वाला कोई भी देश पाएगा कि उसने एक बड़ी गलती कर दी है।

बशीर ने कहा कि हम अपने ही क्षेत्र में डींग हांकने वालों को देखते हैं। सेना और वायु सेना के वरिष्ठ लोगों के ऐसे बयान हैं जो (सीमा के) दूसरी ओर से आते हैं जिसमें कहा जाता है कि इसे दोहराया जा सकता है। उन्होंने अपने भाषण के शुरू में ही कहा, हमारा मानना है कि इस प्रकार के दुस्साहस या गलत आकलन का परिणाम भयानक तबाही होगा।
     
बशीर ने यह टिप्पणी थल सेना अध्यक्ष जनरल वीके सिंह के इस बयान के मद्देनजर दी जिसमें उन्होंने कहा था कि भारतीय फौज के पास अमेरिकी उस विशेष बल के जैसे हमले करने की क्षमता है जिसमें बिन लादेन मारा गया था।
     
बशीर ने पाकिस्तान की सैन्य ताकत पर जोर देते हुए कहा कि अगर कोई भी देश यह मानकर कार्रवाई करता है कि वह, पाकिस्तान के खिलाफ किसी भी तरह की एकपक्षीय कार्रवाई कर सकता है तो वह पाएगा कि उसने दुस्साहस किया है। उन्होंने कहा कि इस बात में कोई संदेह नहीं होना चाहिए पाकिस्तान के पास अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त क्षमता है।

पाक से संचालित हो रहे लश्कर ए तैयबा जैसे आतंकी संगठनों के नेताओं के खिलाफ कार्रवाई के बारे में भारतीय सैन्य अधिकारियों की टिप्पणियों के बारे में पूछे गये सवालों के जवाब में बशीर ने कहा कि इस प्रकार की टिप्पणियां चिंता का विषय हैं। उन्होंने सजनात्मक नजरिये की आवश्यकता जताते हुए कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ वार्ता की प्रक्रिया में संलग्न है।
    
बशीर ने कहा कि आतंकवाद और मादक द्रव्यों की तस्करी पर रोकथाम के लिए दोनों देशों के गृह सचिवों के बीच हाल में अच्छी बैठकें हुई थी। जो कुछ भी हो सकता था, हमने किया और आतंकवाद के खतरे को रोकने के लिए हम सहयोग जारी रखे हुए हैं।
 
बशीर ने यहां तक कहा कि 2008 के मुंबई आतंकवादी हमलों को भारत की सुरक्षा या गुप्तचर असफलता करार दिया जा सकता है। बशीर ने अमेरिकी अधिकारियों द्वारा उठाए गए सवालों के मद्देनजर आईएसआई का पुरजोर बचाव किया।
    
अमेरिकी अधिकारियों ने कहा था कि आईएसआई बिन लादेन को खोज पाने में विफल रही जबकि वह वह एक ऐसे परिसर में रह रहा था जो पाकिस्तान की सैन्य अकादमी से एक किलोमीटर से भी कम दूर स्थित था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:'ऑपरेशन लादेन जैसा कुछ किया तो होंगे गंभीर परिणाम'