DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नागरिक उड्डयन मंत्रालय-पायलट शुरू करेंगे बातचीत

नागरिक उड्डयन मंत्रालय-पायलट शुरू करेंगे बातचीत

एयर इंडिया की सेवाएं गुरुवार को नौवें दिन भी बाधित रहीं जबकि गतिरोध समाप्त करने के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय व हड़ताली पायलट बातचीत शुरू करने के लिए तैयार हैं।

एयर इंडिया के एक प्रवक्ता ने बताया कि एयरलाइन अपनी सिर्फ 10 प्रतिशत सेवाओं को ही संचालित कर पाई। हड़ताली पायलट हड़ताल की अवधि के दौरान किए गए सभी निलंबनों, बर्खास्तगी, स्थानांतरण को खत्म करने और आईसीपीए की मान्यता बहाल करने की मांग कर रहे हैं।

उनकी मांग है कि एयर इंडिया के प्रबंधन द्वारा दायर अदालत की अवमानना याचिका वापस ली जाए और कथित भ्रष्टाचार तथा कुप्रबंधन की सीबीआई जांच कराई जाए। इसके साथ ही अन्य सभी मुद्दों को समयबद्ध तरीके से निपटाया जाए।

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने गतिरोध समाप्त करने के लिए बुधवार को आंदोलनकारी पायलटों से बातचीत की। हालांकि यह बेनतीजा रही। इस बीच एयर इंडिया निजी एयरलाइनों की मदद से अपनी चार्टर्ड उड़ानों को जारी रखेगी। इसने किंग फिशर और एयर अरबिया से भाड़े पर लिए गए विमानों के जरिए बुधवार को 18 चार्टर्ड उड़ानों का संचालन किया, जिनमें 16 घरेलू और दो अंतरराष्ट्रीय उड़ानें थीं।

एयर इंडिया ने सात पायलटों को बर्खास्त और छह को निलंबित कर दिया है। प्रबंधन ने अगले निर्देशों तक आंदोलनकारियों की अप्रैल की तनख्वाह नहीं देने का फैसला किया है। दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को आईसीपीए (मान्यता खत्म) के नौ पदाधिकारियों को हड़ताल वापस लेने के अपने आदेश का पालन नहीं करने के लिए अवमानना नोटिस भेजे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नागरिक उड्डयन मंत्रालय-पायलट शुरू करेंगे बातचीत