DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफगानिस्तान को 2.5 लाख टन गेहूं अनुदान के रूप में देगा भारत

भारत ने अफगानिस्तान को गेहूं के रूप में दी जाने वाले अनुदान को बढ़ाकर 2.5 लाख टन कर दिया है तथा इसकी खेप भेजने की तारीख भी 31 मार्च, 2012 तक के लिए बढ़ा दी है।
    
विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने एक अधिसूचना में कहा,  भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के द्वारा भेजी जाने वाली गेहूं की यह खेप भारत सरकार की ओर से अफगानिस्तान को दिया जाने वाला अनुदान होगा। इससे पूर्व 28 फरवरी को इसकी मात्रा एक लाख टन निर्धारित की गई थी।
    
इसमें कहा गया है कि यह मात्रा वित्तवर्ष 2011-12 के दौरान केन्द्रीय पूल से भारतीय खाद्य निगम द्वारा निर्यात की जायेगी जो वित्तवर्ष 31 मार्च, 2012 को समाप्त होता है।
    
सरकार के पास गेहूं का अधिशेष स्टाक 1.4 करोड़ टन का है जबकि बफर मानदंड अभी तक 70 लाख टन का ही है।
    
हालांकि खाद्य वस्तुओं की ऊंची मुद्रास्फीति के कारण गेहूं का निर्यात प्रतिबंधित है लेकिन देश ने राजनयिक आधार पर कुछ पड़ोसी देशों के लिए इस मानदंड में ढील दी है। अफगानिस्तान के मामले में यह खेप अनुदान के रूप में होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अफगानिस्तान को 2.5 लाख टन गेहूं मिलेगा