DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ADB की बैठक में भी छाए अन्ना हजारे

भारत में भष्ट्राचार पर लगाम के लिए कड़े कानून की मांग को लेकर भूख हड़ताल पर बैठने वाले सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे की चर्चा अब दूसरे देशों में भी होने लगी है। एशियाई विकास बैंक (एडीबी) की यहां चल रही बैठक में भी अन्ना हजारे का जिक्र आया। वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने इस मौके पर यह तथ्य स्वीकार किया कि सरकार पर इस मामले में सामाजिक संगठनों का दबाव पड़ा था।

बैठक के दौरान गवर्नर्स सेमिनार में इस बारे में सवाल पूछे जाने पर मुखर्जी ने कहा कि सामाजिक संगठनों के दबाव में सरकार ने तत्काल कार्रवाई की। कोई भी जिम्मेदार और जवाबदेह सरकार इसकी अनदेखी नहीं कर सकती।

वित्त मंत्री ने कहा कि हजारे और समाज के अन्य लोगों के प्रयास से इस महत्वपूर्ण मुद्दे यानी भ्रष्टाचार पर ध्यान केंद्रित हुआ है। महाराष्ट्र के गांव के गांधीवादी 73 वर्षीय हजारे अप्रैल में अपने समर्थकों के साथ भ्रष्टाचार से निपटने के लिए लोकपाल के गठन की मांग को लेकर दिल्ली में 98 घंटों की भूख हड़ताल पर बैठे थे। इसके बाद सरकार ने इसका मसौदा तैयार करने के लिए एक संयुक्त समिति का गठन किया था, जिसमें हमारे के अलावा वरिष्ठ मंत्री और समाज के अन्य वर्गों के प्रतिनिधि शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ADB की बैठक में भी छाए अन्ना हजारे