DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

40 किस्मों के होते हैं समुद्री घोड़े

40 किस्मों के होते हैं समुद्री घोड़े

क्या तुम समुद्र से पाए जाने वाले घोड़े के बारे में जानते हो। समुद्र में पाए जाने की वजह से हम इसे समुद्री घोड़ा या वैज्ञानिक भाषा में ‘सी हॉर्स’ के नाम से जानते हैं। इसकी 40 किस्में होती हैं। इनमें से सबसे छोटी किस्म का घोड़ा एक इंच लंबा और सबसे बड़ी किस्म का एक फुट लंबा होता है। दुनियाभर के सभी गर्म समुद्रों में इसकी कई किस्में पाई जाती हैं। समुद्री घोड़े के शरीर पर हड्डी की कड़ी और मजबूत प्लेटों का कवच चढ़ा रहता है। इस कवच के कारण ही समुद्री घोड़ा समुद्र के पानी में खड़ा-खड़ा तैरता रहता है। पानी में खड़ा होने पर उसका सिर ऊपर और दुम नीचे रहती है। आगे-पीछे या ऊपर-नीचे तैरने के लिए यह अपनी पीठ पर लगे एक बड़े पंख को हिलाता है।

तैरते समय यह पंख इतनी तेजी से हिलता है कि उसे देख पाना बहुत मुश्किल होता है। इसके सिर के पिछले भाग में कान की जगह पर दो छोटे-छोटे पंख और होते हैं और ये पंख भी बराबर आगे-पीछे चलते रहते हैं। समुद्री घोड़े के शरीर में एक विशेष थैली होती है, जिसमें हवा भरी होती है। पानी में तैरने या इतराते रहने के लिए इस थैली का सुरक्षित हो जाना, समुद्री घोड़े के लिए सबसे कठिन काम है। जैसे मोटर के ट्यूब में हवा भरकर उसके सहारे किसी नौसिखिए आदमी को पानी से ऊपर रहते हुए तैरना सिखाते हैं, उसी तरह समुद्री घोड़े के शरीर में मौजूद इस थैली या ब्लैडर की हवा उसको पानी में तैरते रहने के लिए सहायक है। अगर इस थैली में से हवा का एक बुलबुला भी बाहर निकल जाए तो समुद्री घोड़े का संतुलन बिगड़ जाता है। वह लाचार होकर समुद्र की तली में जा बैठता है। अधिकतर समुद्री घोड़े राख या काले व नीले कलर के होते हैं, किंतु हिंद महासागर और भूमध्य सागर में पाए जाने वाले ‘सी हॉर्स’ के शरीर पर एक विशेष प्रकार की जैकेट चढ़ी होती है, जिस पर गुलाबी, पीले, सफेद या गहरे नीले धब्बे पड़े होते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:40 किस्मों के होते हैं समुद्री घोड़े