DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सायना नेहवाल, बैडमिंटन की महान खिलाड़ी

सायना नेहवाल, बैडमिंटन की महान खिलाड़ी

सायना नेहवाल राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। उनका जन्म 17 मार्च 1990 को हैदराबाद में हुआ। सायना ने बैडमिंटन की ट्रेनिंग द्रोणाचार्य सम्मान प्राप्त कर चुके एसएम आरिफ की देखरेख में शुरू की। सायना ने हैदराबाद स्थित गोपी चंद अकेडमी में प्रशिक्षण प्राप्त किया। अकादमी ने सायना की प्रतिभा को देखते हुए उन्हें आधुनिक प्रशिक्षण पाने के लिए हॉलैंड और डेनमार्क भेजा।

सायना के पिता हरवीर सिंह पेशे से साइंटिस्ट हैं और उनकी मां उषा रानी हरियाणा स्टेट चैंपियन रह चुकी हैं। ऐसे में सायना को माता-पिता का पूरा सहयोग मिला। बचपन में ही सायना ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया और राष्ट्रीय जूनियर चैंपियन बनीं। तब से अब तक सायना ने जितने भी टूर्नामेंट्स में भाग लिया है, उनका परफॉर्मेस बेहतर ही रहा है। न केवल राष्ट्रीय, बल्कि अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट्स में भी सायना ने बेहतर प्रदर्शन दिखाया है।

उनकी पहली बड़ी उपलब्धि थी वर्ष 2003 में हुआ चेक ओपन। सायना ने यह टूर्नामेंट जीतकर बेशुमार प्रसिद्धि हासिल की। सायना ने 2004 के राष्ट्रमंडल खेलों में भी बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन वे मेडल नहीं जीत सकीं। हालांकि इसी साल सायना ने जूनियर एशियन चैंपियनशिप जीती।

आज सायना ने विश्व बैडमिंटन में अपना खास स्थान बना लिया है। पिछला साल सायना के लिए खास रहा। उन्होंने इंडियन ओपन ग्रेंड प्रिक्स गोल्ड जीता, जिसमें उन्होंने दुनिया की नंबर 1 खिलाड़ी मलयेशिया की मीऊ चू वांग को हराया। इसके बाद उन्होंने सिंगापुर ओपन सुपर सिरीज में वर्ल्ड चैंपियन चीन के लु लान को मात दी और टूर्नामेंट जीता। पिछले साल 24 जून को उन्हें विश्व की तीसरी बड़ी

महिला सिंगल बैडमिंटन खिलाड़ी का दर्जा भी दिया गया। 27 जून को सायना ने इंडोनेशियन ओपन सुपर सीरीज जीती।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सायना नेहवाल, बैडमिंटन की महान खिलाड़ी