DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आवास, वाहन ऋण महंगा होगा: बैंकर

रिजर्व बैंक द्वारा नीतिगत दरों में आज आधा प्रतिशत की बढ़ोतरी किए जाने से आवास, वाहन और निगमित ऋणों के महंगा होने की संभावना है।
   
आईडीबीआई बैंक के कार्यकारी निदेशक आरके बंसल ने बताया, मुझे लगता है कि बैंकों के पास ब्याज दरें बढ़ाने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है। बैंक ब्याज दरों में चौथाई से आधा प्रतिशत तक की वृद्धि कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि चूंकि कोष की लागत बढ़ गई है, बैंकों को अपनी दरों की समीक्षा करनी होगी।
   
ओरिएंटल बैंक ऑफ कामर्स के कार्यकारी निदेशक एस़सी़ सिन्हा ने भी कहा कि रेपो दर आधा प्रतिशत बढ़ाए जाने से निश्चित तौर पर ब्याज दरों पर असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि दरें बढ़ने की संभावना है और इस संबंध में बैंक की संपत्ति देनदारी समिति अगले कुछ दिनों में निर्णय करेगी।
   
उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने महंगाई पर अंकुश पाने के लिए रेपो और रिवर्स रेपो दरों में आधा आधा प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी है। मार्च, 2010 के बाद से रिजर्व बैंक द्वारा नौवीं दफा बढ़ोतरी की गई है।
   
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के कार्यकारी निदेशक एस़सी़ कालिया ने कहा कि रुख बिल्कुल साफ है और ब्याज दरें बढ़ने के संकेत मिल रहे हैं।
   
इसी तरह के विचार व्यक्त करते हुए देना बैंक के कार्यकारी निदेशक अशोक कुमार दत्त ने कहा कि पिछली मौद्रिक नीति समीक्षा के बाद से अभी तक दरें नहीं बढ़ी हैं। इस बार की वृद्धि के साथ बैंकों को ब्याज दरें बढ़ानी पड़ेगी।
   
बैंकों द्वारा ब्याज दरों में कितनी बढ़ोतरी की जाएगी, यह अगले कुछ दिनों में स्पष्ट होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आवास, वाहन लोन महंगा होगा: बैंकर