DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ब्याज दरें बढ़ने से निवेश पर असर पड़ेगा: उद्योग जगत

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति ने मायूस उद्योग जगत ने मंगलवार को कहा कि मौद्रिक नीति में प्रमुख दरें बढ़ाए जाने से निवेश का वातावरण बुरी तरह प्रभावित होगा।
   
उद्योग मंडल फिक्की के महासचिव राजीव कुमार ने कहा,  यह निश्चित तौर पर बहुत सख्त मौद्रिक रुख है और इससे निवेश का वातावरण और मुश्किल भरा हो जाएगा। हमें आशंका है कि वृद्धि दर घटने के साथ रोजगार सृजन का लक्ष्य हासिल नहीं हो पाएगा और इससे अधिक सामाजिक दबाव बनेगा।
   
सीआईआई ने भी कहा कि रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दर आधा प्रतिशत बढ़ाए जाने से निवेश और आर्थिक वृद्धि पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा।
   
सीआईआई के महानिदेशक चन्द्रजीत बनर्जी ने कहा कि आपूर्ति में बाधाओं को दूर करने के लिए ढांचागत सुधार करने के बजाय लगातार मौद्रिक नीति सख्त करने से कंपनियों की सृजन क्षमता और विस्तार पर असर पड़ेगा।
    
एक अन्य उद्योग मंडल, एसोचैम ने अलग नजरिया अपनाते हुए रिजर्व बैंक द्वारा उठाए गए कदम की सराहना की और कहा कि यह एक सकारात्मक कदम है क्योंकि इससे सकल मांग का दबाव कम होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ब्याज दरें बढ़ने से निवेश पर असर पड़ेगा: उद्योग जगत