DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आदमखोर गुलदार को शिकारी ने मारा

मासूम छात्र की हमलावर मादा गुलदार को आदमखोर घोषित किए जाने के बाद विभाग द्वारा नियुक्त शिकारी ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया।

कार्बेट टाईगर रिजर्व से सटे लैंसडोन वन प्रभाग के द्वारीखाल इलाके में विभाग द्वारा नियुक्त शिकारी लखपत सिंह ने राज्य के प्रमुख वन संरक्षक (वन्यजीव) द्वारा आदमखोर घोषित की गई मादा गुलदार को सोमवार को  सुबह करीब पांच बजे भारी मशक्कत के बाद गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

डीएफओ नरेन्द्र सिंह ने बताया कि बीस अप्रैल को दोपहर लगभग डेढ़ बजे ग्राम धारीखाल निवासी कक्षा सात के छात्र प्रमोद पुत्र वीरेन्द्र सिंह 14 साल को ग्राम जमोखी के समीप मादा गुलदार ने उस समय हमला करके अपना निवाला बना लिया था।

जब वह अन्य साथियों के साथ स्कूल से अपने गांव वापस जा रहा था। घटना से गुस्साए ग्रामीणों द्वारा आंदोलनात्मक रूख अपनाए जाने के बाद राज्य के प्रमुख वन संरक्षक (वन्यजीव) द्वारा छात्र के हमलावर मादा गुलदार को उसी दिन आदमखोर घोषित कर उसको मारने के लिए प्रसिद्ध शिकारी लखपत सिंह को तैनात कर दिया गया था। तभी से लगातार हमलावर मादा गुलदार की तलाश की जा रही थी तथा सोमवार को सुबह करीब पांच बजे उस पर नजर पड़ते ही लखपत सिंह ने एक ही गोली से उसे मौत के घाट उतार दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आदमखोर गुलदार को शिकारी ने मारा